google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

आयुष मंत्री ने गिनाई 100 दिन की उपलब्धियां, कहा- कांट्रैक्ट खेती के लिए तैयार


लखनऊ, 13 जुलाई 2022 : उत्तर प्रदेश सरकार में आयुष राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दया शंकर मिश्र 'दयालु' ने बुधवार को बताया कि प्रदेश के 2.38 करोड़ किसानों को औषधीय पौधों की खेती करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। कांट्रैक्ट खेती के लिए नीति तैयार की गई है। इसकी मदद से उन्हें उपज का उचित मूल्य दिलाया जाएगा। 134 प्रकार के औषधीय पौधों की खेती को बढ़ावा दिया जाएगा।

लोकभवन में आयुष और खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग के सौ दिनों की उपलब्धियां गिनाते हुए दया शंकर मिश्र 'दयालु' ने बताया कि खाद्य पदार्थों में मिलावट की जांच के लिए छह प्रयोगशालाएं में लखनऊ की प्रयोगशाला में खाद्य पदार्थों में कीटनाशक की जांच भी की जाएगी। कीटनाशकों के प्रयोग से लोगों की सेहत खराब न हो इसके लिए जैविक खेती को भी बढ़ावा दिया जाएगा।

अत्याधुनिक उपकरणों से भारी धातुओं की मिलावट की भी आसानी से जांच हो सकेगी। 500 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर स्थापित किए गए हैं जिनके इंपैक्ट का सर्वे बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी के साथ मिलकर आयुष विभाग करा रहा है। अभी तीन हजार रोगियों का सर्वे हुआ है जिसकी रिपोर्ट पर सुधार किया जाएगा।

अब स्नातक की 100 सीटों की संबद्धता के लिए निजी आयुष कालेजों से 1.50 लाख रुपये और स्नातक की 60 सीटों के लिए 1.30 लाख रुपये संबद्धता शुल्क है। गोरखपुर के महायोगी गुरु गोरखनाथ आयुष विश्वविद्यालय से 105 सरकारी व निजी आयुष कालेज संबद्ध किए गए हैं। अब आयुर्वेद, होम्योपैथिक व यूनानी विधा से इलाज की सुविधा एक छत के नीचे आयुष अस्पताल बनाकर दी जा रही है। 50 बेड के नौ अस्पताल बन चुके हैं और 11 अस्पतालों का निर्माण चल रहा है।

गुणवत्तापरक प्रसाद के लिए भोग कार्यक्रम : दया शंकर मिश्र 'दयालु' ने बताया कि खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग ने गुणवत्तापरक प्रसाद के लिए 75 धार्मिक स्थलों को भोग कार्यक्रम से जोड़ा है। स्वतंत्र आडिट एजेंसियों की मदद से मंदिर परिसर का आडिट करा रसोई घर व दुकानों में समुचित साफ-सफाई और गुणवत्तापरक प्रसाद का विक्रय सुनिश्चित किया गया है।

3,267 रेस्टोरेंट व मिठाई की दुकानों की हाईजीन रेटिंग : दया शंकर मिश्र 'दयालु' ने बताया कि भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण के तय मानकों के अनुसार हाईजीन रेटिंग की जा रही है। 100 दिनों 3,267 रेस्टोरेंट व मिठाई की दुकानों की हाईजीन रेटिंग की गई। साफ-सफाई व गुणवत्तापूर्ण खाद्य पदार्थ की बिक्री हो इसके लिए एक से लेकर पांच अंक तक रेटिंग की जाती है।


0 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0