google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

जब एक जिलाधिकारी विश्व रक्तदाता दिवस पर खुद ब्लड डोनेट करने पहुंचे तो देखिए क्या हुआ




-विश्व रक्तदाता दिवस पर डीएम ने की रक्तदान की शुरूआत
-जिलाधिकारी सहित 32 व्यक्तियों ने किया रक्तदान
-रक्तदानियों को माला पहनाकर व प्रमाणपत्र देकर किया सम्मानित


बांदा। जिला चिकित्सालय के ब्लड बैंक में विश्व रक्तदाता दिवस के अवसर पर आज आयोजित रक्तदान शिविर में जिलाधिकारी आनंद कुमार सिंह सहित 22 स्वैच्छिक रक्तदाताओं ने रक्तदान किया जबकि 30 रक्तदाताओं ने आवश्यकता पड़ने पर रक्तदान की शपथ लेते हुए पंजीकरण कराया। रेड क्लब के 10 रक्तदाताओं ने भी इस अवसर पर रक्तदान किया। उधर राजकीय मेडिकल कॉलेज, बांदा में प्रधानाचार्य डॉ. मुकेश यादव ने रक्तदान शिविर का फीता काटकर शुभारम्भ किया।


बाँदा के जिला चिकित्सालय में बने ब्लड बैंक में सुबह 11 बजे जिलाधिकारी आनंद कुमार सिंह ने रक्तदान शिविर का शुभारंभ किया और सबसे पहले अपना रक्तदान किया। जिलाधिकारी और रेड क्लब के वरिष्ठ सदस्य अविनाश मिश्रा ने एक साथ रक्तदान किया। अविनाश मिश्रा ने अपने जीवन का 33वां रक्तदान आज इस शिविर में किया। इसके बाद जिलाधिकारी ने वहां उपस्थित लोगों और रक्तदाताओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि विश्व रक्तदाता दिवस 2005 से मनाया जा रहा है। इसकी सार्थकता तभी है जब स्वयं रक्तदान करें, इसीलिए उन्होंने भी रक्तदान किया है। उन्होंने कहा कि रक्तदान मानव शरीर द्वारा ही किया जा सकता है। प्रतिदिन सड़क दुर्घटनाएं होती हैं इसमें मरीज की जान खतरे में होती है। अगर उन्हें समय से खून मिल जाए तो उनकी जान बचाई जा सकती है, इसलिए रक्तदान बहुत जरूरी है। जिलाधिकारी ने रक्तदाताओं से अपील की कि वह रिपीट डोनर बने, हर 3 माह में रक्तदान करने से किसी तरह की हानि नहीं होती, बल्कि मेडिकल साइंस कहती है कि रक्तदान करने से मनुष्य स्वस्थ रहता है।



जिलाधिकारी का स्वागत रेड क्लब के अध्यक्ष संजय निगम अकेला ने उन्हें माला पहनाकर किया। इसके बाद रक्तदान करने पर जिलाधिकारी को मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. एन.डी. शर्मा ने रेड क्लब की ओर से प्रमाणपत्र सौंपा। तत्पश्चात जिलाधिकारी और मुख्य चिकित्साधिकारी ने एक इटैलियन नागरिक एलेक्जेन्ड्रो को भी रेड क्लब की ओर से जारी प्रमाणपत्र देकर व माला पहनाकर उनका सम्मान किया। रेड क्लब के वरिष्ठ सदस्य अविनाश मिश्रा को भी जिलाधिकारी व मुख्य चिकित्साधिकारी ने माला पहनाकर व प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया, वो अभी तक 33 बार रक्तदान कर चुके हैं, वो लगातार 20 वर्षों से प्रतिवर्ष 3 से 4 बार रक्तदान कर रहे हैं। रेड क्लब के सचिव निशांत खैरा एवं दिलीप द्विवेदी ने भी आज के शिविर में रक्तदान किया। ये दोनों भी पिछले कई वर्षों से प्रतिवर्ष लगभग 3 बार रक्तदान करते चले आ रहे हैं।


इनके अलावा रेड क्लब की ओर से रक्तदान करने वाले नितिन मतानी, वैभव यादव, अपूर्व निगम, दिलीप कुमार त्रिपाठी, पुनीत चौरसिया व सुधांशु गुप्ता रहे। इसके साथ ही रेड क्लब और स्वास्थ्य विभाग की ओर से सभी रक्तदाताओं को माला पहनाकर व प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. एन.डी. शर्मा ने रेड क्लब के सह संस्थापक सचिन चतुर्वेदी व डॉ. एस.के. बाजपेई तथा रेड क्लब के अध्यक्ष संजय निगम अकेला को भी रक्तदान के क्षेत्र में उनके उल्लेखनीय योगदान हेतु माला पहनाकर सम्मानित किया। कार्यक्रम का संचालन पूर्व ब्लड बैंक प्रभारी डॉ. एस.के. बाजपेई ने किया। उन्होंने ही ब्लड बैंक की अभी तक की कार्यविधि और अविस्मरणीय घटनाओं को सभी के समक्ष रखा।


इस मौके पर मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. यू.वी. सिंह, प्रमोद द्विवेदी, डॉ. शबाना रफीक, रेड क्लब के संरक्षकगण अशोक त्रिपाठी जीतू (पूर्व अध्यक्ष, डिस्ट्रिक्ट बार एसोसिएशन) व वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रद्युम्न कुमार लालू दुबे, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष राजकुमार राज, वरिष्ठ व्यापारी नेता मनोज जैन व अमित सेठ भोलू, सुरेश कान्हा, संजय काकोनिया सहित रेड क्लब के सचिव निशान्त खैरा, दिलीप द्विवेदी, अतुल तिवारी, अभय सिंह आदि उपस्थित रहे। इसके साथ ही सेवर्स ऑफ लाइफ के अध्यक्ष सलमान खान व उनकी टीम के सदस्य भी मौजूद रहे। सेवर्स ऑफ लाइफ के सदस्यों ने भी बढ़चढ़कर रक्तदान में प्रतिभाग किया। राजकीय मेडिकल कॉलेज में प्रधानाचार्य डॉ. मुकेश यादव ने रक्तदान शिविर का शुभारम्भ फीता काटकर किया। इस शिविर में भी लगभग 10 रक्तदाताओं ने रक्तदान किया।



संदीप तिवारी (संवाददाता, बांदा)
संदीप तिवारी (संवाददाता, बांदा)

रिपोर्ट - संदीप तिवारी, बांदा

टीम स्टेट टुडे


















विज्ञापन
विज्ञापन

9 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0