google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

सावधान! फर्जी हो सकता है Online टिकट


लखनऊ, 25 अक्टूबर 2023 : गूगल पर सर्च कर क्रिकेट विश्व कप मैचों के टिकट बुक करने वालों को जालसाज फर्जी वेबसाइट से चपत लगा रहे हैं। कई शिकायतें मिलने पर सोमवार को संयुक्त पुलिस आयुक्त उपेंद्र अग्रवाल के निर्देश पर साइबर क्राइम सेल को जांच के आदेश दिए हैं। साइबर क्राइम सेल ने आइसीसी और बीसीसीआइ को भी मेल भेजा गया है। पुलिस अब तहरीर का इंतजार कर रही है।

लखनऊ में 29 अक्टूबर को भारत और इंग्लैंड के बीच होने वाले मैच का लोगों को बेसब्री से इंतजार है। इस मैच का टिकट पाने के लिए लोग महीने भर से परेशान हैं। इसी का फायदा उठाते हुए जालसाजों ने आइसीसी की फर्जी वेबसाइट बना ली। सभी मैचों के टिकट की उपलब्धता दिखाई जा रही है।

मोटी रकम देकर फंस जाते हैं लोग

गूगल पर सर्च करते ही लोग जालसाजों की फर्जी वेबसाइट पर पहुंच पर मोटी रकम देकर टिकट बुक करते हैं। प्रिंट निकालते हैं, तब पता चलता है कि यह टिकट फर्जी है। शिकायतों का उच्चाधिकारियों ने संज्ञान लिया और साइबर क्राइम सेल को जांच के लिए लगाया है। उनकी तरफ से आए जवाब के आधार पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

संयुक्त पुलिस आयुक्त उपेंद्र अग्रवाल ने बताया कि वेबसाइट की जांच की गई तो फर्जी पाई गई है। इस पर बीसीसीआई के साथ आईसीसी को मेल भेजा गया है। जांच के टीम गठित कर दी गई है। लोगों से अपील है कि वे टिकट बुक करने के लिए गूगल सर्च न करें। अधिकृत माध्यमों से ही टिकट बुक करें।

दो से 20 हजार में बेच रहे टिकट

जालसाजों की फर्जी वेबसाइट की पड़ताल पुलिस ने शुरू कर दी है। उस पर टिकट की तीन श्रेणियां हैं। पहली श्रेणी में टिकट दो से चार हजार रुपये में मिल रहे हैं। उसके बाद पांच हजार से सात हजार रुपये और आखिर में 8500 से 20 हजार रुपये में बेच रहे हैं। किस श्रेणी के कितने टिकट बचे, यह जानकारी भी दे रहे हैं।

यही नहीं, लोगों को फंसाने के लिए छूट का भी लालच दे रहे हैं। टिकट बुक करने के बाद पेटीएम और यूपीआइ के माध्यम से रकम ले रहे हैं। वेबसाइट को सही साबित करने के लिए बीच-बीच में टिकट बेचना बंद भी कर देते हैं।

0 views0 comments
bottom of page