google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

संघ के पदाधिकारियों से मिल कर बीजेपी संगठन के अधिकारी पहुंचे मुख्यमंत्री आवास: महत्वपूर्ण घटनाक्रम



राजनीतिक रस्साकशी और संभावनाओं के मायाजाल से इतर भारतीय जनता पार्टी 2022 के विधानसभा चुनाव के अगले पड़ाव पर पहुंच गई है। ये दौर संगठन को साधने, असमंजस को दूर करने, असंतोष को समाप्त कर रणनीतियां बनाने और उस पर पूरी ताकत से जुटने के पहले कमर कसने का है।


अगर जातिगत या धार्मिक आधार पर वोटबैंक की सियासत को एक तरफ रख दें तो इस समय भारतीय जनता पार्टी बेहद प्रोफेशनल तरीके चुनाव जीतने के लिए एक एक बिंदु पर माथापच्ची कर रही है।


उत्तर प्रदेश की आबादी दुनिया के कई देशों की जनसंख्या से ज्यादा है। ऐसे में कोरोनाकाल से मिले कष्टों और चुनौतियों को पार कर पार्टी ने विधानसभा चुनाव में जीत की रणनीति पर तेजी से काम शुरू कर दिया है।

जनता के बीच जाने से पहले भारतीय जनता पार्टी ने मंत्र चुना है 'सेवा ही संगठन'।


ये सच है कि कोरोना की पहली लहर की अपेक्षा दूसरी लहर में पूरे देश के साथ साथ उत्तर प्रदेश ने भी बड़ी त्रासदी का सामना किया। बावजूद इसके मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में सरकार और संगठन ने जन-जन तक मदद पहुंचाने के लिए घोड़े खोल दिए।


सरकार की विभिन्न योजनाएं एक तरफ और कोविड काल के दौरान हुए प्रयास एक तरफ। इसी को आधार बनाकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पदाधिकारियों से मुलाकात के बाद पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री संगठन बीएल संतोष और प्रदेश प्रभारी राधामोहन सिंह ने सोमवार को मुख्यमंत्री के सरकारी आवास पर कोर कमेटी के साथ बैठक की। अभियानों की समीक्षा और सरकार एवं संगठन के साझा रोडमैप पर मंथन किया गया।


इससे पहले विधानसभा चुनाव की तैयारियों के लिए बीएल संतोष और राधामोहन सिंह सोमवार सुबह राजधानी आ गए। बीजेपी आफिस में प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह और प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल के साथ कुछ देर चर्चा के बाद चारों वरिष्ठ पदाधिकारी निराला नगर स्थित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यालय सरस्वती कुंज पहुंचे। यहां संघ के क्षेत्र प्रचारक अनिल सहित कुछ पदाधिकारियों से चर्चा हुई। आपको बता दें इस मुलाकात में संघक्षेत्र प्रचारक की तरफ से पार्टी पदाधिकारियों को आवश्यक इनपुट के साथ साथ महत्वपूर्ण बिंदु भी बताए गए जिन पर आगामी रणनीति तैयार हो रही है। इस दौरान बीजेपी के सेवा ही संगठन अभियान के तहत हो रही गतिविधियों पर जनता से जुड़ाव बढ़ाने के लिए कई सुझावों पर चर्चा हुई।


संघ के दृष्टिकोण को समझ कर राष्ट्रीय महामंत्री संगठन और प्रदेश प्रभारी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास पहुंचे। जहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व डॉ. दिनेश शर्मा सहित पार्टी की कोर कमेटी के साथ बैठक की।


इस बैठक में टीकाकरण अभियान, पोस्ट कोविड सेंटर संचालन, सामुदायिक और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को पार्टी के जनप्रतिनिधियों द्वारा गोद लिए जाने की प्रक्रिया के साथ साथ प्रदेश की जनता को दी जा रही मदद की सूची पर चर्चा हुई। जिन बिंदुओं पर विपक्ष सरकार पर हमलावर है या घेरने की तैयारी कर रहा है उस पर भी गौर किया गया।


कोरोना पीड़ितों के घर घर संपर्क, 23 जून को पौधारोपण अभियान संगठन द्वारा चलाए जाने वाले कार्यक्रमों और अभियानों में सरकार कैसे बेहतर समन्वय के साथ भागीदारी के साथ ही 25 जून को आपातकाल की याद दिलाने का कार्यक्रम भी तय हुआ।


बीजेपी संगठन के पदों पर नियुक्तियों के बाद अब पार्टी पदाधिकारियों को जिम्मेदारियां सौंपी जाएंगी। पार्टी पदाधिकारियों के जरिए कोर कमेटी में तय हुए कार्यक्रमों के रोडमैप को जमीन पर उतारा जाएगा। अब बीएल संतोष और राधामोहन सिंह मंगलवार को प्रदेश और क्षेत्र के वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ अलग-अलग बैठकें करेंगे जिसमें फीडबैक लेने के साथ ही जिम्मेदारियां भी सौंपी जाएंगी।


टीम स्टेट टुडे


विज्ञापन
विज्ञापन


Comments


bottom of page