google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

चुनावी मोर्चे पर पूर्व सैनिकों को भी उतारेगी भाजपा


लखनऊ, 10 अक्टूबर 2023 : अगले वर्ष होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा पूर्व सैनिकों को भी चुनावी तैयारियों के मोर्चे पर तैनात करने जा रही है। पार्टी पूर्व सैनिकों के माध्यम से प्रदेश के लाखों सेवारत और सेवानिवृत्ति सैनिकों के बीच अपनी पैठ बनाएगी। साथ ही, आमजन के बीच अपना जनाधार बढ़ाने के लिए सैनिक की छवि को भुनाएगी।

नवंबर से जनवरी के बीच भाजपा प्रदेश के तीन जिलों में पूर्व सैनिकों की रैलियां आयोजित करने की योजना बना रही है। भाजपा प्रदेश मुख्यालय पर सोमवार को पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह चौधरी और प्रदेश महामंत्री (संगठन) धर्मपाल सिंह ने भाजपा के पूर्व सैनिक प्रकोष्ठ के पदाधिकारियों के साथ बैठक की।

बूथ स्तर पर शुरू होगा काम

बैठक में प्रदेश अध्यक्ष व प्रदेश महामंत्री (संगठन) ने पूर्व सैनिक प्रकोष्ठ से अपेक्षा की कि वह पार्टी की जिला इकाइयों से समन्वय स्थापित कर बूथ स्तर पर काम शुरू करे। वह सैनिकों और पूर्व सैनिकों के बीच मोदी सरकार की ओर से सैनिकों और वीर नारियों के हित में किये गए कार्यों की जानकारी दे।

बैठक में इस पर भी चर्चा हुई कि पूर्व सैनिक प्रकोष्ठ गाजीपुर के गहमर क्षेत्र, बुलंदशहर और लखनऊ में अपनी गतिविधियां बढ़ाए। गाजीपुर के गहमर क्षेत्र के निवासी परंपरागत तौर पर सेना में भर्ती होते रहे हैं। बुलंदशहर में भी बड़ी संख्या में पूर्व सैनिक हैं। वहीं सेना का मध्य कमान मुख्यालय होने के नाते लखनऊ में भी सैनिकों और पूर्व सैनिकों के परिवार बड़ी संख्या में रहते हैं।


0 views0 comments
bottom of page