google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

सीएम योगी ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को बनाया हाईटेक, मोबाइल और इन्फैंटोमीटर से बदलेगी तस्वीर



यूं तो सरकार की तरफ से सरकारी कर्मचारियों और कई बार समाज के अलग अलग वर्गों के लिए तमाम योजनाओं के किस्से कहानी तो आपने कई बार सुने होंगे। कभी विद्यार्थियों को लैपटाप, कभी गृहिणियों को टीवी, फ्रिज आदि, कभी किसानों को सब्सिडी वगैरह वगैरह।


लेकिन, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अगुवाई वाली बीजेपी सरकार ने आज ऐसा तोहफा उन लोगों को बांटा है जो वास्तव मे समाज के अतिंम पायदान पर खड़े आखिरी आदमी की वास्तविक उम्मीद होते हैं।

उत्तर प्रदेश के हर क्षेत्र के विकास में बड़ी भूमिका अदा करने वाली आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लोक भवन में स्मार्टफोन और इन्फैन्टोमीटर वितरित किए हैं। साथ ही इनके मानदेय में बढ़ोतरी का संकेत भी दिया है।


आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को 1.23 स्मार्टफोन और बच्चों की जांच के लिए 1.87 लाख इन्फैंटोमीटर भी बांटे गए। इस दौरान सीएम के साथ महिला कल्याण एवं बाल विकास मंत्री स्वाति सिंह के साथ मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी भी मौजूद थे।


सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस कार्यक्रम में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का उत्साह भी बढ़ाया और उनके कई साहसिक कार्य की जमकर सराहना भी की। इस दौरान उन्होंने कहा कि पिछले दिनों जो मानदेय बढ़ाया गया था वह परफॉर्मेंस आधारित था। यह पिछला बकाया था, जो उन्हें दिया गया था। अब तो फिर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं मानदेय बढ़ाया जाएगा।


सीएम ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से कहा कि पारदर्शी और ईमानदार सरकार के लक्ष्य की प्राप्ति के लिए हम तकनीक के माध्यम से शासन की योजनाओं को प्रत्येक नागरिक तक पहुंचाएं। मुझे प्रसन्नता है कि विगत साढ़े चार वर्षों में प्रदेश के बारे में धारणाएं बदली हैं।



स्मार्ट फोन और इन्फैन्टोमीटर के जरिए योगी सरकार ने एक साथ कई लक्ष्यों को साधा है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सही मायनों में ग्रामीण, निम्न आयवर्ग और सरकार के बीच सबसे बड़ा सेतु हैं। गांव गांव में फैले आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का नेटवर्क इतना जबरदस्त है कि कोरोनाकाल के दौरान इन्हीं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के जरिए योगी सरकार ने एक एक घर तक दवाओं के साथ साथ आवश्यक मदद उपलब्ध करा दी।


आंगनबाड़ी कार्यकर्ता बहुमुखी प्रतिभा के धनी होते हैं और जनता के साथ सीधा कनेक्ट बनाने की महारथ रखते हैं। ऐसे में योगी सरकार की तरफ से दिया गया स्मार्ट फोन सरकार को सीधा फीडबैक हासिल करने में मदद करेगा। सरकार की योजनाओं के प्रचार संदेश आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के फोन से जुड़े ग्रुप्स में सीधे लोगों तक पहुंचेंगे। सिर्फ इतना ही नहीं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को जो इन्फैंटोमीटर दिए गए हैं उससे बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण प्रभावी तरीके से किया जा सकेगा। इन्फैंटोमीटर की मदद से बच्चों के पोषण स्तर पर प्रभावी ढंग से नजर रखी जा सकेगी। इन्फैंटोमीटर बाल पोषण से संबंधित एक महत्वपूर्ण उपकरण है। इससे बच्चों की लंबाई और वजन की माप की जाती है।


इसमें दोराय नहीं कि यह आयोजन केवल स्मार्ट फोन और ग्रोथ मॉनिटरिंग डिवाइस के वितरण का कार्यक्रम कहा जा सकता है लेकिन अगर सही तरह से सरकार की मंशा परवान चढ़ गई तो इसकी गूंज सुशासन के लक्ष्य को प्राप्त करने में नींव के पत्थर के रूप होगी।


टीम स्टेट टुडे





11 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0