google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

सीएम योगी ने ग्रेटर नोएडा को दी 1670 करोड़ की सौगात, अब घरों में आएगा गंगा जल


लखनऊ, 1 नवंबर 2022: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथने मंगलवार कोग्रेटर नोएडा को गंगाजलपरियोजना समेत 1670 करोड़ रुपयेकी विभिन्न योजनाओंकी सौगात दी।ग्रेटर नोएडा के नॉलेजपार्क-4 में सीएमयोगी ने इनपरियोजनाओं का लोकार्पणएवं शिलान्यास किया। 85 क्यूसेक की गंगाजलपरियोजना की शुरुआतहोने के बादघरों में स्वच्छपीने योग्य जलकी आपूर्ति संभवहोगी।

निवेश का अच्छागंतव्य बना गौतमबुद्धनगर

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथने कहा किगौतमबुद्धनगर देश हीनहीं, विदेश मेंभी निवेश कासबसे अच्छा गंतव्यबन रहा है।पिछले साढ़े 5 वर्षोंमें यहां नई-नई चीजेंआई हैं। मेट्रोयहां प्रारंभ हुई, एशिया का सबसेबड़ा एयरपोर्ट जेवरमें बन रहाहै, फिल्म सिटीयहां बनने जारही है, मेडिकलडिवाइस पार्क बनने जारहा है औरभी कई योजनाएंजल्द यहां आनेजा रही हैं।ये क्षेत्र लाखोंनौजवानों के लिएरोजगार, लाखों परिवारों कोस्वावलंबन की ओरअग्रसर करने कीओर बढ़ रहाहै। निवेश केनए क्षेत्र यहांबन रहे हैं।पहले हम केवलआईटी और आईटीएमएसमें निवेश देखतेथे, लेकिन अबमल्टी मॉडल ट्रांसपोर्टके हब केरूप मल्टी मॉडललॉजिस्टक हब केरूप में भीये क्षेत्र तेजीसे आगे बढ़रहा है। इन्हींमें से कुछयोजनाओं का लोकार्पणहुआ है।

गंगा मइयाखुद स्वच्छ जलदेने आ रहीहैं घर

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथने कहा किअब तक लोगगंगा स्नान करनेजाते थे, लेकिनअब गंगा मइयाखुद लोगों केघर तक स्वच्छजल देने आगई हैं। 85 क्यूसेकगंगा जल यहांउपलब्ध होने जारहा है। यहांपर 176 किमी. पाइपलाइन कानेटवर्क बिछाया गया है, 5 एकड़ में 19 रिजर्व वायरका निर्माण हुआ।इस पर 376 करोड़रुपए की धनराशिव्यय हुई। 4 लाखलोग इसके माध्यमसे शुद्ध पेयजलउपलब्ध कर पाएंगे।यहां पर 28 आवासीयसेक्टर में यहसुविधा उपलब्ध करा रहेहैं और मार्च 2023 तक 38 आवासीय सेक्टर तकविशुद्ध गंगाजल की आपूर्तिकरने वाले हैं।

माफिया प्रवृति केतत्वों से कठोरतासे बर्ताव

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथने कहा किविकास में जोलोग बैरियर बनतेथे, उन्होंने यहांभी कोताही नहींछोड़ी थी। हमनेपहले ही बोलाथा कि किसानको जो समस्याहोगी हम बातचीतसे निदान करेंगे।किसानों के साथ, युवाओं के साथ, यहां काम करनेवाले मजदूरों केसाथ हम संवादकरेंगे और जोमाफिया प्रवृति के तत्वहैं, उनके साथकठोरता से बर्तावकरेंगे। वर्षों से लंबितयोजनाओं को लागूकरने में इतनेवर्ष इसलिए लगेकि कुछ लोगइसमें रोड़ा अटकातेथे। उन सभीरोड़ों को हटातेहुए 85 क्यूसेक शुद्ध गंगाजल आपको उपलब्धहो रहा है।इस कार्य कोहम एक समयसीमा में पूराकरेंगे।

माफिया की चपेटमें था गौतमबुद्धनगर

सीएम योगीने अपने संबोधनमें कहा किसाढ़े 5 वर्ष पहलेये पूरा क्षेत्रमुख्यमंत्रियों के लिएअभिशप्त माना जाताथा, ये पूराक्षेत्र विकास की योजनाओंमें गिद्ध दृष्टिलगाए हुए माफियाकी चपेट मेंथे जो यहांकिसानों का एकओर शोषण करतेथे तो दूसरीओर उत्तर प्रदेशके नौजवानों कीभावनाओं के साथखिलवाड़ करते थेऔर अथॉरिटी सेजुड़ी हुई धनराशिका दुरुपयोग करतेथे। यहां कीऔद्योगिक इकाइयां यहां सेपलायन कर रहीथीं। पिछले साढ़ेपांच वर्षों मेंगौतमबुद्धनगर की तस्वीरबदली है। इसमेंजनप्रतिनिधियों की सक्रियसहभागिता, पुलिस और प्रशासनने एक टीमके रूप मेंपरिणाम देना प्रारंभकिया तो यहांउत्तर भारत केपहला डाटा सेंटरका भी लोकार्पणहुआ। ये डिजिटलइंडिया के मूर्तरूपऔर उसकी आनेवाली चुनौतियों केलिए एक नईशुरुआत है।

गौतमबुद्धनगर डाटा सेंटरका एक नयाहब

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथने कहा किपीएम नरेंद्र मोदीने कुछ दिनपहले टेलीकॉम सेक्टरमें 5जी काशुभारंभ किया। ये 5जीजिस स्पीड सेइंटरनेट की सेवाएंप्रदान करेगा, ये जीवनकी बदलती नईतस्वीर है, इसकीस्पीड के साथहम चल सकें, आपकी प्राइवेसी सुरक्षितरह सके, यहांके डाटा कोहम यहां केविकास के साथजोड़ सकें, इसदृष्टि से यूपीऔर खासतौर परगौतमबुद्धनगर डाटा सेंटरके एक नएहब के रूपमें विकसित होरहा है।

बेईमानी में डूबीथी पॉलिटिकल लीडरशिप

मुख्यमंत्री ने पिछलीसरकारों की खामियोंको इंगित करतेहुए कहा किअगर पिछली सरकारेंहोतीं तो येडाटा सेंटर यहांकभी नहीं लगपाता। ये कमजोरीअथॉरिटी की नहीं, पॉलिटिकल लीडरशिप की थी, जो स्वयं बेईमानीमें डूबी हुईथी। यहां परकोई भी सुरक्षितनहीं था, कार्यसमयबद्ध ढंग सेनहीं हो पाताथा, आखिर अपनीपूंजी और स्वयंकी सुरक्षा कोदांव पर लगातेहुए कोई निवेशककैसे आता। लेकिनअब तस्वीर बदलरही है। येन केवल गौतमबुद्धनगरके प्रत्येक नागरिककी बल्कि पूरेउत्तर प्रदेश कीतकदीर को बदलतीहुई दिखाई देरही है। येबदलती हुई तकदीरआज हम सबकेसामने नए भारतके नए उत्तरप्रदेश की तस्वीरको प्रस्तुत करतीहै, जिस परहर प्रदेशवासी गौरवकी अनुभूति कररहा है।

उत्तर प्रदेश सेखत्म हुआ संगठितअपराध

सीएम योगीआदित्यनाथ ने कहाकि कभी जेवरक्षेत्र अपराध के गढ़के रूप मेंजाना जाता था।जुलाई 2017 में यहांवीभत्स कांड हुआथा, जिससे पूरीमानवता दहल उठीथी। तब मैंनेकहा था किइन माफियाओं, दुष्कर्मियोंको सबक सिखानाहोगा। हमने तबअपनी कार्रवाई प्रारंभकी थी। तबहमने अपनी इच्छाशक्तिसे इनके खिलाफलड़ना प्रारंभ कियाथा। कार्रवाई आगेबढ़ी और आजउत्तर प्रदेश सेसंगठित अपराध खत्म हुआहै। उत्तर प्रदेशसे माफिया जोकभी प्रदेश कीव्यवस्था के सरपरस्तहुआ करते थे, व्यवस्था का संचालनकरते थे, उनकेबगैर सत्ता कापत्ता नहीं हिलताथा, आज वेजेलों में सड़रहे हैं, गिड़गिड़ारहे हैं। येयहां के युवाओंके भविष्य परग्रहण लगाते थे, आज आपके आशीर्वादसे उत्तर प्रदेशके अंदर पीएममोदी के आह्वानपर जो सरकारबनी है, वहइन पर ग्रहणलगाने का कार्यकर रही है।

स्वस्थ प्रतिस्पर्द्धा सेबना वर्ल्ड क्लासइंफ्रास्ट्रक्चर

सीएम योगीआदित्यनाथ ने कहाकि आज यहांढेर सारी विकासकी योजनाएं आईहैं। तीनों अथॉरिटीमें एक स्वस्थप्रतिस्पर्द्धा प्रारंभ हुई है।देश के अंदरवर्ल्ड क्लास इंफ्रास्ट्रक्चर आपकोकहीं जाकर देखनाहै तो नोएडा, ग्रेटर नोएडा, यमुना अथॉरिटीके पास आकरदेख सकते हैं।आप प्रदेश केबाहर निकलेंगे तोउत्तर प्रदेश कीसाफ, चौड़ी औरजगमगाती सड़कें आपको यादआएंगी। सभी लोगजब मिलकर एकदिशा में चलतेहैं तो इसकेपरिणाम भी देखनेको मिलते हैं।

कई परियोजनाओंकी हुई शुरुआत

सीएम योगीआदित्यनाथ ने कहाकि ढेर सारेसीवेज ट्रीटमेंट काभी यहां लोकार्पणहो रहा है।इंटीग्रेटेड सिक्योरिटी एंड ट्रैफिकफाइनेंस का सिस्टमभी यहां लागूहो रहा है।ट्रैफिक रूल काउल्लंघन करने वालोंका आटोमैटिक चालानइसके माध्यम सेकट जाएगा। बहुतजल्द इसे हमसेफ सिटी सेभी जोड़ेंगे, ताकिहर बेटी-बहनअपने आपको सुरक्षितमहसूस कर सके।विद्युत की आपूर्तिअनवरत बनी रहे, इसके लिए विद्युतसबस्टेशन का लोकार्पणके साथ हीकई अंडरपास औरसड़कों के चौड़ीकरणके साथ हीचिल्लन पार्क का लोकार्पणभी हो रहाहै। यूपीसीडा केमाध्यम से रेडीमेडगारमेंट के लिएफ्लैटेड फैक्ट्री का शुभारंभकिया गया है।

0 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0