google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

सीएमओ ने पकडिया का किया निरीक्षण, कैंप लगाकर किया जांच


पीलीभीत, 29 अक्टूबर 2022 : पीलीभीत में नगर पंचायत नौगवॉ पकडिया में हो रही मौतों के सम्बन्ध में मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. आलोक कुमार के स्तर से मौतों का कारण जानने के लिये जॉच पडताल की गयी। जिसमें ज्ञात हुआ कि स्व. खुशहालों देवी पत्नी रामभरोसे की मृत्यु 12 अक्टूबर 2022 को हो गयी, उनके उपचार से सम्बन्धित उपलब्ध रिपोर्टों के अवलोकन से ज्ञात हुआ कि स्व. खुशहालों देवी टाइफाइड बुखार से ग्रसित थी। 12 अक्टूबर 2022 को ही स्व. सुरेश चन्द्र सक्सेना पुत्र स्व. मुरारी लाल आयु 72 वर्ष की मृत्यु हो गयी थी इनके परिजनों से वार्त करने पर ज्ञात हुआ कि यह बहुत दिनों से श्वास सम्बन्धी रोग से ग्रसित थे इनकी मृत्यु स्वाभाविक कारणों से हुई।



स्व. सुरेश कुमार पुत्र बृजलाल आयु 38 वर्ष पेट में दर्द एवं उल्टी की शिकायत के कारण के 18 अक्टूबर 2022 को उपचार हेतु जिला चिकित्सालय में भर्ती हुये जहॉ परिजनों द्वारा चिकित्सक की सलाह के वितरीत 26 अक्टूबर 2022 को घर ले जाया गया। इनकी मृत्यु 22 अक्टूबर 2022 हो गयी। इनके बारे में जानकारी प्राप्त हुई के शराब के आदी थे अक्सर बीमार रहते थे। 26 अक्टूबर 2022 को स्व. देवांस मिश्रा पुत्र राजेश मिश्रा आयु 15 वर्ष की मृत्यु हो गयी।

मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा परिजनों से इनके उपचार से सम्बन्धित रिपोर्टो कहा गया किन्तु परिजनों द्वारा अवगत कराया गया कि उल्टी व पेट दर्द की शिकायत हुई और कोई रिपोर्ट नहीं दिखा सके। जिससे कि मौत का कारण पता लगाया जा सके। मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा नगर पंचायत नौगवॉ पकडिया में स्वास्थ्य शिविरों के माध्यम से डेंगू एवं मलेरिया की जॉच की गयी। नगर पंचायत नौगवां पकडिया में व्याप्त बुखार के कारणों को जानने के लिये मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा स्थलीय निरीक्षण किया तो ज्ञात हुआ कि नगर पंचायत में ज्यादातर लोगों को टाइफाइड का संक्रमण हैं।

निरीक्षण के दौरान पीने के पानी के स्त्रोतों को देखा गया तो पाया गया कि सभी नल 40 से 45 फिट पर लगे है। इन्हें चलाकर देखने पर नलों से पीले रंग का दूषित जल निकल रहा था। जो बुखार का मुख्य कारण है। इससे बचाव हेतु मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा सभी स्थानीय प्रतिनिधियों को बुलाकर उनसे वार्ता कर उन्हें अवगत कराया गया कि यदि जल जनित बीमारी से बचना है तो पानी उबालकर ठण्डा करके पीने हेतु प्रयोग में लाने हेतु सभी को बताऐं। मच्छर जनित अन्य बीमारियों की रोकथाम हेतु सम्पूर्ण नगर पंचायत में मलेरिया विभाग की टीम लगाकर उक्त दिवसों में स्वास्थ्य शिविरों के साथ साथ एण्टी लार्वा का छिडकाव कराया गया, साथ ही टीमों द्वारा घर घर जाकर सोर्स रिडक्शन की कार्यवाही भी की गयी।

रिपोर्टर-रमेश कुमार

31 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0