google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

कोरोना से डिप्‍टी सीएम ब्रजेश पाठक ने किया सतर्क


कानपुर, 8 अप्रैल 2023 : प्रदेश के उप मुख्यमंत्री व स्वास्थ्य मंत्री ब्रजेश पाठक ने शनिवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि कोरोना को लेकर बुजुर्ग व बीमार सतर्क रहें। वे भीड़ में न जाएं। भाजपा दक्षिण जिला के यशोदा नगर चौराहा के पास वृंदावन लान में आयोजनत प्रभावी मतदाता सम्मेलन में शामिल होने आए उप मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार कोरोना को लेकर लेकर पूरी तरह तैयार है। सरकार की हर स्तर पर पूरी तैयारी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अब संगठित अपराध नहीं है। ऐसे लोगों को सरकार ने अदालत में पैरवी कर कड़ी सजा दिलाई है। वहीं महिलाओं और बच्चों के प्रति अपराध करने वालों को छह-छह माह में फांसी दिलाई गई है।

इससे पहले सम्मेलन में उन्होंने कहा कि यह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ही देन है कि देश में कोरोना के दो वैक्सीन शुरुआती दौर में ही तैयार हो गईं। उनके मुताबिक पहले जो भी वैक्सीन आती थी वह अमेरिका, इंग्लैंड जब उसे बना लेते थे तो उसके पचास वर्ष बाद भारत में आती थी। कोरोना जब आया तो जब अमेरिका और दूसरे देशों ने अपनी वैक्सीन बनाई तो भारत ने दो वैक्सीन बना लीं। उनके मुताबिक यही कारण है कि आज हम पूरी तरह सुरक्षित बिना मास्क के यहां बैठे हैं। इसके लिए सभी को दो वैक्सीन और बूस्टर डोज की व्यवस्था की गई थी। इसीलिए आज देश और प्रदेश में कोरोना का खतरा नहीं है।

मतदाता सम्मेलन में उन्होंने कहा कि निकाय चुनाव की घोषणा किसी भी समय हो सकती है। इसलिए एक-एक कार्यकर्ता, एक-एक घर जाकर वहां पार्टी का प्रचार करे। पिछली बार भी हम प्रचंड रूप से जीते थे, इस बार केंद्र और प्रदेश सरकार की उपलब्धियों को बता कर जीत को और बड़ा करें। उन्होंने कहा कि पार्टी की चुनाव को लेकर पूरी तैयारी है। स्थानीय पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं का उन्होंने आह्वान किया कि चुनाव में पूरी ताकत से जुटना है। इसीलिए सभी को प्रदेश नेतृत्व ने हर जिले में प्रभावी मतदाता सम्मेलन के लिए भेजा है। कानपुर की आवाज आसपास के जिलों में भी पहुंचती है, इसलिए सबसे पहले यहां से इसे शुरू कर रहे हैं।

2017 से पहले की सपा सरकार पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि उस समय प्राथमिक स्कूल तबेलों में बदल गए थे। लोग अपनी भैंस बांध रहे थे। आज भाजपा सरकार ने उनका कायाकल्प किया है। एक अप्रैल से स्कूल चलो अभियान में सभी बच्चों को स्कूल में पढ़ाने की व्यवस्था की गई है। 2017 से पहले प्रदेश में मात्र 13 राजकीय मेडिकल कालेज थे। आज 30 निजी और 35 सरकारी मेडिकल कालेज हैं। सिर्फ 14 जिलों में मेडिकल कालेज रह गए हैं। वहां भी बन रहे हैं और जल्दी चालू हो जाएंगे।

उन्होंने कहा कि अब प्रदेश में संगठित अपराध नहीं है। सरकार ने अदालत में ठीक से पैरवी कर इन लोगों को सरकार ने पैरवी कर ऐसे लोगों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने का काम किया है। इसके साथ ही महिलाओं और बच्चों के प्रति जो अपराध किए गए हैं, उनमें पैरवी कर छह-छह माह में फांसी तक पहुंचाया है। सपा शासनकाल में अपराध के संबंध में उन्होंने कहा कि पहले सभी जिलों में गुंडे कारों पर घूमते थे और उन्हें सपा नेता का संरक्षण हासिल था। बहू बेटियां शाम को घर नहीं पहुंचती थीं तो लोग परेशान हो जाते थे। अब हमने बहू-बेटियों को परेशान करने वालों पर 25 हजार मुकदमे दर्ज किए हैं। इसके अलावा किसी प्लाट पर कब्जा करने वालों पर भी कार्रवाई की जा रही है।

कार्यक्रम में दक्षिण जिलाध्यक्ष डा. वीना आर्या, विधायक सुरेंद्र मैथानी, नगर निगम चुनाव के सह प्रभारी रणवेन्द्र प्रताप सिंह धुन्नी, प्रकाश शर्मा, पूर्व जिलाध्यक्ष कौशल किशोर, रामदेव शुक्ला, राधेश्याम पांडेय, पूर्व महापौर रवीन्द्र पाटनी, अरुण चैतन्य पुरी, कृष्ण दास आदि रहे।


13 views0 comments
bottom of page