google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

देश में कोरोना संकट गहराया, केंद्रीय गृहमंत्रालय ने जारी कीं नई गाइडलाइंस



कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच केंद्रीय गृह मंत्रालय एक बार फिर सक्रिय हुआ है। मंत्रालय की तरफ से नए दिशा निर्देश आ गए हैं। नई गाइडलाइंस 1 अप्रैल 2021 से 30 अप्रैल 2021 तक प्रभावी रहेंगी। यह दिशा-निर्देश राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश सरकारों को तत्काल भेजे गए हैं। केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने सभी मुख्य सचिवों को पत्र लिखकर नए दिशानिर्देश की जानकारी दी है।


कोविड-19 पर केंद्रीय गृहमंत्रालय की नई गाइडलाइंस


  • देश के सभी हिस्सों में टेस्ट, ट्रैकिंग और ट्रीट प्रोटोकॉल को सख्ती से लागू किया जाएगा।

  • राज्य अपने मूल्यांकन के आधार पर स्थानीय रूप से प्रतिबंध ला सकते हैं।

  • कोविड कंटेनमेंट जोन के बाहर किसी गतिविधि पर कोई प्रतिबंध नहीं लगाया जाएगा।

  • जिन राज्यों में आरटी-पीसीआर परीक्षणों का अनुपात कम है, उन्हें तेजी से बढ़ाकर 70 प्रतिशत या उससे अधिक करना होगा।

  • नए पॉजिटिव मामलों को जल्द से जल्द और समय पर उपचार प्रदान करने के लिए क्‍वारंटीन किया जाएगा।

  • कोरोना के पॉजिटिव मामलों और उनके संपर्कों की ट्रैकिंग के आधार पर जिलाधिकारियों को कंटेंनमेंट जोन को चिन्हित करना होगा और उन्हें वेबसाइट्स पर सूचित करना होगा।

  • राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को कार्यस्थलों में और सार्वजनिक रूप से भीड़-भाड़ वाली जगहों पर कोविड से बचाव के लिए कोविड गाइडलाइंस को बढ़ावा देने के लिए सभी आवश्यक उपाय किए जाएंगे।

  • राज्यों को सभी प्राथमिकता समूहों को जल्द से जल्द कवर करने के लिए टीकाकरण में तेजी लानी होगी।



टीकाकरण पर बड़ा फैसला


कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। केंद्र सरकार ने एलान किया कि एक अप्रैल से 45 साल के ऊपर सभी लोगों को कोरोना का टीका लगाया जाएगा। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि अब 45 साल से ऊपर के लोग कोरोना टीकाकरण के लिए पंजीकरण कराएं। अब नियम सिर्फ सरकारी कर्मचारियों के लिए नहीं है, बल्कि अब 45 साल से ज्यादा उम्र के आम नागरिक भी टीका लगवा सकेंगे।


टीम स्टेट टुडे


विज्ञापन
विज्ञापन

117 views0 comments