google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

कोरोना के इलाज की बड़ी उम्मीद है डीआरडीओ का अस्पताल- देखिए क्या क्या होगा, सीएम योगी ने किया दौरा



लखनऊ के अवध शिल्प ग्राम प्रांगण में बने डीआरडीओ अस्‍पताल का न‍िरीक्षण करने पहुंचे सीएम योगी आद‍ित्‍यनाथ को आर्मी के अफसरों और डीएम अभ‍िषेक प्रकाश ने DRDO के अस्‍पताल की पूरी जानकारी दी। सीएम ने अस्‍पताल के साथ आइसीयू और प्रशासन‍िक भवन का भी न‍िरीक्षण क‍िया। डीआरडीओ के सूत्रों के अनुसार अस्‍पताल पूरी तरह से मरीजों के उपचार के ल‍िए तैयार है। सभी तरह के ट्रायल पूरे कर ल‍िए गए हैं। अब बस प्रशासन की तरफ से ऑक्‍सीजन उपलब्‍ध कराने का इंतजार है। ऑक्‍सीजन उपलब्‍ध होते ही अस्‍पताल अपनी पूरी क्षमता से काम करने लगेगा।


सीएम योगी ने संक्रमित होने के बाद भी लगातार रोजाना 19 से 20 घंटे काम किया। इस दौरान उन्होंने कोरोना की रोकथाम में तेजी लाने के लिए विभिन्न विभागों के अधिकारियों विभिन्न क्षेत्रों के लोगों के साथ संवाद का वर्चुअल कार्यक्रम जारी रखा। आईसोलेशन में होने के बावजूद वह अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश जारी करते रहे।



24 घंटे ऑक्सीजन सप्लाई की बनी रहेगी उपलब्धता


युद्धस्तर पर तैयार किए गए डीआरडीओ के अस्पताल में ऑक्सीजन की उपलब्धता के दूसरे विकल्प को भी तैयार करने का निर्देश दिए गए हैं, जिससे अब यहां लगे 20 हजार लीटर की क्षमता वाले मेडिकल ऑक्सीजन टैंक के अलावा ऑक्सीजन कंस्ट्रेटर भी लगाया जाएगा। जिससे संक्रमितों को 24 घंटे ऑक्सीजन की आपूर्ति बनी रहे।



सेना के 25 विशेषज्ञ डॉक्टर देंगे अपनी सेवाएं


सेना के तीन शहरों से आईसीयू के 25 विशेषज्ञ डॉक्टर लखनऊ के अटल बिहारी वाजपेयी कोविड अस्पताल में सेवा देंगे। तीनों सेनाओं के साथ इनमें दिल्ली के सेना के सबसे बड़े रेफरल और रिसर्च अस्पताल से भी डॉक्टर आएंगे। वहीं, कई आर्मी फील्ड अस्पताल से 80 एमएनएस अधिकारियों की तैनाती भी की जाएगी। साथ ही यूपी सरकार की ओर से भी डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ तैनात होगा।


टीम स्टेट टुडे


विज्ञापन
विज्ञापन


47 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0