google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

तालिबान के धमाकों से फिर थर्राया अफगानिस्तान, काबुल में हालात बेकाबू



अफगानिस्तान पर आतंकी संगठन तालिबान के कब्जे के बाद राजधानी काबुल एक बार फिर बम धमाकों से थर्रा उठी।


काबुल में एयरपोर्ट के नजदीक रिहायशी इलाके में यह धमाका हुआ। हमला राकेट से किया गया जिसमें एक बच्चे की मौत हो गई। इस हमले में तीन लोग घायल भी हुए हैं। हमला उत्तरी काबुल के रिहायशी इलाके ख्वाजा बुघरा में किया गया। रॉकेट यहां एक घर पर गिरा। यह इलाका काबुल हवाई अड्डे से ज्यादा दूर नहीं है।

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने रविवार को अंदेशा जताया था कि 24 से 36 घंटे के अंदर फिर से हमला हो सकता है।


समाचार एजेंसी रायटर ने दो अमेरिकी अधिकारियों के हवाले से कहा है कि अमेरिका ने काबुल में आइएसआइएस खुरासान के आतंकियों को निशाना बनाते हुए यह हमला किया है। फिलहाल इस बारे में कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है।


अमेरिका ने अपने सभी नागरिकों से तत्काल काबुल हवाईअड्डे का इलाका छोड़ने को भी कहा था। इस इलाके में हमला होने की खुफिया जानकारी मिलने के बाद एयरपोर्ट पर तैनात अधिकारियों को अलर्ट जारी किया गया था। यह घटना ऐसे वक्‍त में सामने आई है जब अमेरिका ने काबुल में बढ़ते खतरे और अपनी वापसी की डेडलाइन (31 अगस्त) को देखते हुए बचे हुए अमेरिकी और अफगान नागरिकों के साथ अपने सैनिकों को भी बाहर निकालने की प्रक्रिया तेज कर दी है।


इससे पहले शनिवार को हवाईअड्डे के एंट्री गेट के पास भी फायरिंग की खबरें आई थीं। रिपोर्ट्स में दावा किया गया था कि यहां कई राउंड की फायरिंग की गई थी। चश्मदीदों ने बताया था कि हवाई अड्डे के आसपास आंसू गैल के गोले उठते देखे गए थे। फायरिंग के बाद हवाई अड्डे के आसपास भगदड़ का माहौल भी बन गया था।


इससे पहले काबुल एयरपोर्ट के पास 26 अगस्त को हुए हमले में करीब 103 लोगों की मौत हो चुकी है। इसमें 90 अफगानी नागरिक और 13 अमेरिकी सैनिक शामिल हैं। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, हमले में मारे गए 90 अफगानियों में 28 तालिबानी भी थे। ये सभी तालिबानी एयरपोर्ट के बाहर सुरक्षा में खड़े थे। बताया जा रहा है कि हमले में घायलों की संख्या 1300 पार हो चुकी है।


टीम स्टेट टुडे


विज्ञापन

34 views0 comments