google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

अफगानिस्तान में क्या हो रहा है 14 साल पार लड़कियों व महिलाओं के साथ-तालिबान की इस्लामी सरकार– देखिए



अफगानिस्तान में तालिबान की हुकूमत आने के साथ ही मंजर खौफनाक हो गया है। हवाई जहाज की छत से लेकर पहिए पर लटकते हुए मौत के मंजर तो आपने अब तक देख ही लिए होंगे। अब जो वहां हो रहा है उसे देखकर रुह फना हो जाएगी।


भारत में आमिर खान, सलमान खान, शाहरुख खान, सैफ अली खान, पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी और इन सब के जैसे भारत में रहने वाले तमाम कट्टरपंथी सोच के लोगों का साथ जो भारत में देते हैं वो जरा अफगानिस्तान से आ रही तस्वीरें और वीडियो देख लें।


अफगानिस्तान में अब 14 साल से ऊपर की कोई भी लड़की और महिला सुरक्षित नहीं है। जबरन निकाह, बलात्कार, सामूहिक बलात्कार तो अफगानिस्तान में खुलेआम हो ही रहा है। बुर्के में ढकी महिलाओं के जरा से हाथ-पैर दिखने भर पर उन्हें गोली मारी जा रही है।



सिर्फ इतना ही नहीं तालिबान ने बाकयदा 15 साल से 45 साल तक की महिलाओं की पूरी लिस्ट पेश करने का फरमान जारी कर दिया है।


तालिबान की वापसी से महिलाएं सबसे ज्यादा खौफजदा हैं। कुछ प्रांतों पर कब्जे के बाद से ही उसके नेताओं ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया था। जुलाई की शुरुआत में बदख्शां और तखर स्थानीय धार्मिक नेताओं को तालिबान लड़ाकों के साथ निकाह के लिए 15 साल से बड़ी लड़कियां और 45 साल से कम उम्र की विधवाओं की फेहरिस्त देने का हुक्म दिया था।


निकाह के बाद इन महिलाओं को पाकिस्तान के वजीरिस्तान ले जाकर फिर से इस्लामी तालीम दी जाएगी। मानवाधिकार वादियों का कहना है कि ये अफगानिस्तान में महिलाओं को यौन दासता में धकेलने की इस तालिबानी कवायद है।



आंखों में तैर रहा 1996 का भयावह मंजर


तालिबान का ताजा आदेश सख्त चेतावनी है कि आने वाले दिनों में अफगानिस्तान का भविष्य क्या है। साथ ही 1996-2001 में उसके क्रूर शासन की भी यादें ताजा करता है। जब महिलाओं के अधिकारों पर तरह-तरह के जुल्म किए गए। उन्हें शिक्षा से दूर रखा गया, बुर्का पहनने पर मजबूर किया गया और बिना पुरुष संरक्षक के घर से बाहर जाने पर पाबंदी लगा दी गई।


सहर नाम की एक महिला ने बताया कि तालिबानियों पर कोई यकीन नहीं है। लड़कियों की शिक्षा पर सातवीं के बाद पाबंदी है। वहीं, अफगानिस्तान के दूर दराज के प्रांतों में 14 साल से अधिक उम्र की लड़कियों को जबरन उठा ले जाते हैं।



परिवार छोड़ कर देश से भागे अफगानी


हैरान करने वाली बात ये है कि अफगानिस्तान में रहने वाले ज्यादातर मुसलमान जो तालिबान के डर से अपना मुल्क छोड़ रहे हैं वो अपने बीबी-बच्चों को तालिबानियों के हवाले कर के भाग रहे हैं। जाहिर है ये अफगानी मुस्लिम दुनिया में जहां भी जाएंगे वहां फिर से महिलाओं को फंसा कर निकाह करेंगे और उस मुल्क को तबाही की कहानी लिखेंगे जहां इन्हें पनाह मिलेगी।


भारत में लव जेहाद का धंधा


भारत में लव जेहाद का धंधा चलाने वालों के चंगुल में फंसने वाली हिंदू परिवारों को ये जरुर जानना चाहिए कि इनकी असलियत क्या है।


एक दौर में भारत में भी कश्मीरी पंडितों को राज्य से रातोंरात निकलने के लिए मजबूर करने वाले मुस्लिम समाज ने उस वक्त भी हिंदू महिलाओं के साथ अत्याचारों की हर सीमा लांघ दी थी। अब अफगानिस्तान से आ रही तस्वीरें कट्टरपंथी मजहब की चरम सीमा दिखा रहे हैं।


उससे भी बड़ा खतरा ये है कि अफगानिस्तान से किसी भी तरह भारत पहुंचने वाले हिंदू और सिखों के अलावा चोरीछिपे मुसलमान अपने रिश्तेदारों को भारत में घुसेड़ रहे हैं। दिल्ली के कई इलाकों में अफगानी मुसलमानों की बाढ़ सी आ गई है।


केंद्र सरकार को इस तरफ ना सिर्फ ध्यान देने की जरुरत है बल्कि ऐसे घुसपैठियों को वापस खदेड़ने की भी आवश्यकता है। अफगानी घुसपैठिये भी रोहिंग्याओं से कम खतरनाक नहीं हैं।


टीम स्टेट टुडे

स्टेट टुडेटीवी के यूट्यूब चैनल पर जाकर अवश्य सब्सक्राइब करें और बेल आइकन दबाएं। 
STATE TODAYTV यूट्यूब चैनल का लिंक
https://www.youtube.com/channel/UCgxsv4ROlmk_zwHAUztiOKg


#afganistan #afganistantaliban #taliban #terrorism #terrorists


विज्ञापन

239 views0 comments

Recent Posts

See All