google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

बड़े उद्योगों की सफलता के लिए अच्छा MSME जरूरी: शाह


लखनऊ, 10 फरवरी 2023 : एमएसएमई (सूक्ष्म, लघु व मध्यम उद्योग) वह बीज है, जो देश के सबसे बड़े उद्योग के रूप में स्थापित होने का माद्दा रखता है। एमएसएमई में सबसे अधिक रोजगार देने की क्षमता है। यूपी में बड़े उद्योगों की सफलता के लिए अच्छे एमएसएमई जरूरी है। केंद्रीय गृह व सहकारिता मंत्री अमित शाह ने ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में यह गुरु मंत्र दिया।

उत्तर प्रदेश की औद्योगिक नीतियों की सराहना करते हुए शाह ने मुख्य सचिव से कहा कि एक बड़ी कंपनी के साथ उसके सहायक के रूप में एमएसएमई को प्रोत्साहित करने वाली नीति बनाई जाए, जिससे किसी बड़े उद्योग को उससे जुड़े आवश्यक सह उत्पाद प्रदेश में ही उपलब्ध हों। इससे दूसरे राज्यों से उन्हें मंगाने में आने वाला ट्रांसपोर्ट का खर्च बचेगा। साथ ही प्रदेश का एमएसएमई सेक्टर तेज गति से आगे बढ़ेगा। साथ ही उद्योगों के लिए और बेहतर ईको सिस्टम को विकसित किए जाने के लिए भी प्रोत्साहित किया। कहा कि सहकारिता के क्षेत्र में भी उत्तर प्रदेश में अपार संभावनाएं हैं।
एन्हांसिंग सेफ्टी एंड इम्पावरिंग एमएसएमई एंड कोआपरेटिव सत्र के मुख्य अतिथि शाह ने कहा कि वह मानते हैं कि इन्वेस्टर्स समिट के यह तीन दिन आने वाले तीन वर्षाें के लिए उत्तर प्रदेश के लिए फलदायी होने वाले हैं।
शाह ने कहा कि किसी भी राज्य में उद्योग लाना है, उसे उत्पादन का हब बनाना है और इन्वेस्टमेंट लाना है तो उसके लिए पांच पूर्व शर्तें होती हैं। पहली कानून-व्यवस्था बेहतर होना चाहिए। दूसरा राज्य का इन्फ्रास्ट्रक्चर अच्छा होना चाहिए। तीसरा राज्य सरकार ने उद्योग व फाइनेंस के लिए अपनी नीति का निर्धारण सुस्पष्ट करना चाहिए। चाैथा राज्य सरकार पारदर्शी तरीके से चलनी चाहिए और पांचवा उसके मंत्रिमंडल में त्वरित निर्णय लेने की क्षमता होनी चाहिए।

कहा कि एक जमाना था, जब उत्तर प्रदेश में यह पांचों योग्यताएं ढूंढने पर निराशा हाथ लगती थी। प्रसन्नता है कि वर्तमान में उत्तर प्रदेश सरकार ने यह पांचों चीजें जमीन पर उतारी हैं। कई अच्छी नीतियां बनाई गई हैं, जिससे अब संशय का वातावरण नहीं है।

यूपी में आए निवेश से आगे बढ़ेगा देश

शाह ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में राज्य सरकारी पूरी पारदर्शी से चल रही है और उस पर एक भी आरोप नहीं है। उत्तर प्रदेश सरकार ने त्वरित फैसले लेने का माद्दा दिखाया है। इंफ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में बीते पांच सालों में जिन प्रदेशों में सर्वाधिक निवेश हुआ है, उनमें उत्तर प्रदेश एक है।

कहा कि यूपी में विकास की अपार संभावनाएं हैं। देश को फाइव ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था बनाने में यूपी की अहम भूमिका हो सकती है। यूपी की संभावना को देखते हुए बड़ी संख्या में निवेशक यहां निवेश कर रहे हैं। यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में आए निवेश से भारत के विकास में मदद मिलेगी।

सपा प्रमुख अखिलेश पर किया तंज

शाह ने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का बिना नाम लिए हुए विपक्ष पर तीखा हमला भी बोला। कहा कि पिछली सरकार में लखनऊ में निवेशक आने को तैयार नहीं थे। यही वजह थी कि इन्वेस्टर्स समिट दिल्ली में की गई थी।


0 views0 comments
bottom of page