google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

गुवाहाटी में बोले अमित शाह, 'असम के 13 जिलों से हटा अफस्पा, बाकी जिलों से भी हटाएंगे'


नई दिल्ली, 10 मई 2022 : केंद्रीय गृह मंत्रीअमित शाह दोदिवसीय असम केदौरे पर हैं।मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमाकी सरकार केएक साल पूराहोने पर गृहमंत्री ने गुवाहाटीमें एक रैलीको संबोधित किया।संबोधन से पहलेशाह ने असमपुलिस को 'प्रेसिडेंटकलर अवार्ड' भीदिया।

इस दौरानउन्होंने कहा किअसम पुलिस औरराज्य की जनताको बधाई दी।शाह ने कहाकि मैं असमकी जनता औरअसम पुलिस कोबहुत बधाई देताहूं कि आजराष्ट्रपति का चिन्हअसम पुलिस कोमिला है। येसम्मान पाने वालीअसम पुलिस राज्यकी 10वीं पुलिसफोर्स है। शाहने कहा किआजादी के समयअसम पुलिस बलकी संख्या 8 हजारथी और आजअसम पुलिस कीसंख्या 70 हजार सेभी ऊपर उठीहै और अनेकराष्ट्रीय एकता कीमहत्वपूर्ण लड़ाई अमस पुलिसने बहुत अच्छेढंग से लड़ीहै।

शाह नेआगे कहा किअसम पुलिस संवैधानिकव्यवस्था बनाए रखनेके लिए उग्रवादकी समस्या केखिलाफ खड़ी रही।पुलिस जवानों नेबंदूकों के साथबंदूकों का सामनाकिया और विचलितयुवाओं को मुख्यधारामें लेकर आई।

13 जिलों से हटाअफस्पा

अमित शाहने कहा किअसम में अफस्पाके तहत आनेवाले क्षेत्रों कोकम कर दियागया है। हमयह सुनिश्चित करेंगेकि राज्य केसभी क्षेत्रों से AFSPA हटा दिया जाए।उन्होंने कहा कि 1990 के दशक मेंअसम में अफस्पालागू किया गयाथा और इसे 7 बार बढ़ाया गयाथा। पीएम मोदीके 8 साल केशासन में राज्यके 13 जिलों कोअफस्पा मुक्त कर दियागया है, जबकिइसे असम के 60% से अधिक क्षेत्रसे हटा दियागया है।

असम पुलिसको दिया 'प्रेसिडेंटकलर अवार्ड'

अमित शाहने मंगलवार कोअसम पुलिस को 'प्रेसिडेंट कलर अवार्ड' दिया। यह उपलब्धिहासिल करने वालाअसम दसवां राज्यबन गया है।असम पुलिस कोयह सम्मान, उग्रवादसे निपटने, अपराधको नियंत्रित करने, कानून व्यवस्था बनाएरखने और नागरिकोंके जीवन औरसंपत्ति की सुरक्षासुनिश्चित करने मेंअपने असाधारण प्रदर्शनके लिए दियागया।

12 views0 comments

Comments


bottom of page