google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

ज्ञानवापी मस्जिद में एडवोकेट कमिश्नर की कार्यवाही, पहले दिन तहखाने की हुई जांच


वाराणसी, 14 मई 2022 : ज्ञानवापी श्रृंगार गौरी प्रकरण में कमीशन की कार्यवाही अपने निर्धारित वक्त से शुरू हो सके इसे लेकर जिला प्रशासन ने शनिवार की सुबह से ही कड़ी व्यवस्था की है। वाराणसी में ज्ञानवापी परिषद से लगभग एक किलोमीटर पहले ही बैरिकेडिंग करके सभी को रोक दिया गया है। पुलिस द्वारा गोदौलिया और मैदागिन से आने वाले सारे वाहनों को परिसर की ओर आने से रोक दिया गया। वहीं बाबा दरबार में आने वालों की भी कड़ी जांच पड़ताल की गई। वहीं पहले दिन की कार्यवाही दोपहर 12 बजे पूरी हो गई। अब शेष कार्यवाही कल रविवार को पूरी की जाएगी। प्रशासन के अनुसार अब तक 50 फीसद तक सर्वे का काम हो चुका है।

सुबह आठ बजे तक अमूमन पूरी टीम परिसर में दाखिल हो चुकी थी। जबकि टीम में शामिल प्रशासनिक अधिकारियों की टीम की भी सुबह नौ बजे तक परिसर में आमद हो चुकी थी। इसके बाद दोनों पक्षों की सहमति से एक- एक क्षेत्र का सर्वे शुरू किया गया। वहीं प्रारंभिक जानकारी के अनुसार ज्ञानवापी मस्जिद में तहखाना खोल दिया गया है, उसमें एक जहरीला सांप भी मिलने की अपुष्‍ट सूचना मिली जिसे पकड़ने के लिए वन विभाग और सपेरों से भी संपर्क करने की भी जानकारी सामने आई। दोपहर तक परिसर में टीम ने संबंधित क्षेत्रों में चक्रमण कर जायजा लिया और संबंधित की वीडियोग्राफी भी की।

रविवार को भी होगा सर्वे : प्रशासनिक सूत्रों के अनुसार एडवोकेट कमिश्नर समेत वादी-प्रतिवादी पक्ष के कुल 52 सदस्‍यों ने मस्जिद परिसर में प्रवेश किया। वहीं सुरक्षा कारणों से टीम के सभी लोगों का मस्जिद में प्रवेश से पहले ही मोबाइल बाहर ही सुरक्षा टीम द्वारा जमा करा लिया गया। इस दौरान सुरक्षा दस्‍तों के साथ सदस्‍यों की बहस भी हुई। हालांकि, शेष लोगों के समझाने बुझाने के बाद लोगों ने अपनी मोबाइल जमा भी कर दी। ज्ञानवापी मस्जिद के पश्चिमी द्वार के बेसमेंट का सर्वे शनिवार को दोपहर 12 बजे तक पूरा कर लिया गया। अब शेष क्षेत्रों और बेसमेंट का रविवार को फिर से सर्वे किया जाएगा।

बोले वादीऔर प्रतिवादी : अंजुमनइंतजामिया मसाजिद कमेटी केअधिवक्ता रईस अहमदने कहा किकमीशन की कार्यवाहीसौहार्दपूर्ण वातावरण में आंशिकरुप से (लगभग 50 प्रतिशत) संपन्न हुई है।शेष कार्यवाही कलपूरी की जाएगी।सभी का पूरासहयोग मिला। वादीपक्ष के अधिवक्तासुधीर त्रिपाठी वसुभाष नंदन चतुर्वेदीका कहना हैकि सभी पक्षोंका भरपूर सहयोगमिला। किसी पक्षने कोई अवरोधउत्पन्न नहीं किया।कार्यवाही सुचारु रूप सेसंपन्न हो इसकेलिए प्रशासन द्वारासुरक्षा से लेकरमौके पर लाइट, सफाईकर्मियों आदि कीउचित व्यवस्था कीगई थी।

करीब सेदेखा दीवारों को : प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगीमें टीम नेमस्जिद परिसर की दीवारोंको करीब सेदेखा और बनावटकी शैली कोभी करीब सेनिहारा और साक्ष्‍यों कोकैमरे में कैदकिया। तहखाने मेंअंधेरा होने कीवजह से इलेक्ट्रिकरोशनी की व्‍यवस्‍थाकी गई औरपरिसर में सीलनऔर दुर्गंध सेभरे तहखाने मेंएक एक करटीम के सदस्‍यों नेप्रवेश किया। भीतर कीबनावट और पुरातनशैली को भीटीम ने देखा, परखा और साक्ष्‍यों कासंकलन किया। इसदौरान सुरक्षा व्‍यवस्‍थाकड़ी होने कीवजह से मस्जिदपरिसर को पूरीतरह से खालीकराया गया औरपरिसर में सुनिश्चितकिया गया किकोई भी बाहरीव्‍यक्ति मौजूदन रहे। जबकिआसपास का पूराक्षेत्र जहां सीलरहा वहीं करीबआने वालों कोपूछताछ के बादहिदायत देकर लौटादिया गया।

पहले दिनदेर से शुरूहुई कार्यवाही : प्रशासिनकसूत्रों के अनुसारसबसे पहले तहखानोंमें पड़े तालेको खोलकर भीतरकी वर्तमान स्थितिकी जानकारी लीगई। इसके बाददोनों पक्षों कीमौजूदगी में एडवोकेटकमिश्‍नर कीमौजूदगी में वीडियोग्राफीभी गई। वहींसुरक्षा व्‍यवस्‍था कोलेकर डीजीपी औरमुख्य सचिव भीलगातार कमिश्‍नर कीकार्यवाही का जायजाले रहे हैं।एडवोकेट कमिश्‍नर कीकार्यवाही का दौरशुक्रवार सुबह नौबजे से शुरूहो गया। इसबाबत सभी पक्षोंको आवश्‍यकदस्‍तावेज उपलब्‍ध करादिया गया औरप्रशासन ने एकदिन पूर्व हीपरिसर के तालेकी चाबी मांगनेके साथ हीपरिसर में सुरक्षाकड़ी कर दीगई। सुबह सुनिश्‍चित कियागया कि परिसरमें कोई भीअन्‍य व्‍यक्ति की मौजूदगीन रहे। सभीपक्षों के साथसुबह आठ बजेके बाद एडवोकेटकमिश्‍नर कीकार्यवाही के लिएजिला पुलिस कीओर से कड़ाईशुरू कर दीगई।

सुरक्षा कड़ी कीगई : किसी भीतरह का पैदलमूवमेंट या गाड़ियोंका मूवमेंट इससड़क पर नहो इसकी पुख्‍ता व्‍यवस्‍थाकी गई है।इसके अलावा गलियोंपर भी भारीपीएसी की तैनातीकी गई है।पुलिस फोर्स केसाथ चप्पे- चप्पेपर लोकल पुलिसऔर पीएसी केसाथ पैरामिलिट्री फोर्सेसकी तैनाती कीगई है। फिलहालविश्व वैदिक सनातनसंघ के प्रमुखजितेंद्र सिंह बिसेनऔर पांचों महिलाओंमें चार वादीजिनमें मंजू व्यास, सीता साहू, रेखापाठक और लक्ष्मीदेवी यहां मौजूदहैं। गेट संख्याएक पर बैरिकेडिंगकर भारी फोर्सलगाई गई है।चौकथाने के पासबैरिकेडिंग की गईहै। बैरिकेडिंग केआगे वही जासकता है जिसकानाम पुलिस कीलिस्ट में है।वहीं चौक सेबांसफाटक तक जबरदस्तसुरक्षा व्‍यवस्‍था कीगई है।

शनिवार को चारघंटे कार्रवाई : कोर्टकी गठित टीमने परिसर मेंबने तहखानों औरउसके अलग- अलगहिस्‍सों कोसुबह नौ बजेके बाद काफीकरीब से निहारा।सभी की कईएंगल से वीडियोग्राफीकरवाई गई। टीमने एक एककर तहखाने केअलग अलग हिस्‍सों कोजांचा है। सूत्रोंके अनुसार टीमने पहले ग्राउंडफ्लोर पर ग्रिलऔर बैरिकेडिंग केआसपास साक्ष्‍योंका संकलन कियाहै। वहीं अदालतके आदेश परपरिसर की वीडियोग्राफीके लिए विशेषकैमरा और विशेषरोशनी की व्यवस्थाकी गई है।इसके पूर्व सुबहआठ बजे गेटनंबर-4 से ज्ञानवापीपरिसर में जांचटीम ने प्रवेशकिया और दोनोंपक्षों की सहमतिसे टीम नेजांच शुरू की।दूसरी ओर वर्षोंसे बंद तहखानेमें बिजली कीव्यवस्था नहीं होनेऔर काफी अंधेराव सीजन होनेकी वजह सेटीम बैटरी वालीबड़ी टार्च लेकरपहुंची।

22 views0 comments