google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

महंगाई के बहाने दिल्ली में ताकत दिखाएगी कांग्रेस, 4 सितंबर को दिल्ली पहुंचेंगे कांग्रेसी


गोरखपुर, 23 अगस्त 2022 : कांग्रेसियों ने महंगाई हटाओ-रोजगार दो कार्यक्रम के तहत गिरधरगंज कूड़ाघाट में हल्ला बोल चौपाल का आयोजन किया। जिलाध्यक्ष निर्मला पासवान और महानगर अध्यक्ष आशुतोष तिवारी ने कहा कि महंगाई से सभी परेशान हैं। खाद्य पदार्थों की कीमत आसमान छू रही है। ऊपर से केंद्र सरकार ने खाद्य पदार्थों पर वस्तु एवं सेवाकर लगा दिया है। इसके खिलाफ चार सितंबर को दिल्ली में विरोध प्रदर्शन होगा। उन्होंने नागरिकों ने दिल्ली चलने की अपील की।

ब्‍लाकवार चौपाल लगाने की तैयारी

महंगाई और बेरोजगारी को मुद्दा बनाकर कांग्रेस ब्लाक और न्याय पंचायत स्तर पर आयोजित चौपाल कार्यक्रम में ग्रामीणों को इकट्ठा कर महंगाई के साथ ही बढ़ती बेरोजगारी पर चर्चा करेगी। चौपाल में कांग्रेसी वर्ष 2014 से पहले पेट्रोल-डीजल व रसोई गैस की कीमतों का हवाला देने के साथ ही दाल, चावल, गेहूं और रसोई की अन्य वस्तुओं की तब की कम कीमतों को बता रहे हैं। पेट्रोल तब 72 रुपये और डीजल 55.48 रुपये प्रति लीटर की दर से बिक रहा था। 14.2 किलोग्राम वाले रसोई गैस सिलेंडर की कीमत 410 रुपये थी। अब पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की कीमतों में जबरदस्त इजाफा हो चुका है। कांग्रेसी महंगाई के लिए केंद्र की गलत नीतियों के साथ ही बड़े उद्यमियों के हित में सभी योजनाएं बनाने का आरोप लगाकर लोगों को अपनी ओर आकर्षित करने में जुटे हैं।

पेट्रोल डीजल की महंगाई का मुद्दा भी उठेगा

खेती की बढ़ती लागत और उपज का कम मूल्य मिलने की भी कांग्रेसी जानकारी दे रहे हैं। महंगाई के साथ ही बढ़ती बेराेजगारी को मुद्दा बनाकर कांग्रेस युवाओं को पार्टी से जोड़ना चाहती है। यही वजह है कि भले ही कांग्रेस नेतृत्व महंगाई को सबसे बड़ा मुद्दा बताकर लगातार हमलावर है लेकिन हर मंच पर युवाओं को नौकरी का मामला छाया रहता है।

2 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0