google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

माफियाओं पर एक्शन, मुख्तार सहित 36 को दिलवाई सजा, 2200 करोड़ की संपत्ति पर चला बुलडोजर


लखनऊ, 25 सितंबर 2022 : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथके दूसरे कार्यकालमें भी सरकारअपराध के खिलाफजीरो टारलेंस कीनीति के तहतकदम बढ़ा रहीहै। बीते छहमाह में अपराधियोंको उनके अंजामतक पहुंचाने कादायरा और बढ़ाहै। माफिया औरअपराधियों के खिलाफकार्रवाई में औरतेजी आई है।प्रदेश के इतिहासमें पहली बारअब सजा भीहो रही है।माफिया मुख्तार अंसारी सहित 36 माफिया और उनकेशागिर्दों को आजीवनकारावास और दोको फांसी कीसजा हुई है।इस दौरान चिह्नित 62 माफिया की अवैधरूप से कमाईगई 22 सौ करोड़से अधिक कीसंपत्ति को जब्तऔर ध्वस्त कियागया है।

माफिया के 400 सेअधिक सहयोगी गिरफ्तार

सीएम योगीआदित्यमाथ के निर्देशपर पुलिस नसिर्फ अपराधियों केखिलाफ कार्रवाई रहीहै, बल्कि सजाभी करा रहीहै। यूपी पुलिस, अभियोजन और शासनके समन्वय सेकोर्ट में प्रभावीपैरवी कर पूरेदेश में सर्वाधिकमाफिया और अपराधियोंको सजा दिलाईगई है। इतनाही नहीं, सबसेकम समय मेंसजा दिलाने मेंभी उत्तर प्रदेश, देश में पहलेस्थान पर है।यूपी पुलिस नेमाफिया के गैंगके 860 सहयोगियों के खिलाफ 396 मुकदमे दर्ज कर 400 से अधिक कोआरोपियों को गिरफ्तारकिया है। 174 परगुंडा एक्ट, गैंगेस्टरमें 355 और 13 आरोपियों केखिलाफ रासुका केतहत कार्रवाई कीहै और 310 शस्त्रलाइसेंस भी निरस्तकिए हैं।

सीएम योगीने ड्रग माफियाको दी करारीचोट

सीएम योगीआदित्यनाथ ने प्रदेशमें ड्रग माफियाको करारी चोटदी है। अवैधमादक पदार्थों केकारोबार पर रोकलगाने के लिएएंटी नारकोटिक्स फोर्सगठन किया गया।पहले चरण मेंदो थानों गाजीपुरऔर बाराबंकी मेंएएनटीएफ थाना खोलागया और तीनक्षेत्रीय शाखा मेरठ, लखनऊ और गोरखपुरजोन की स्थापनाकी गई है।ड्रग माफिया केखिलाफ 24 अगस्त से आठसितंबर तक चलेअभियान में पुलिसने 2833 संदिग्ध आरोपियों कोचिह्नित कर 2479 आरोपियों केखिलाफ कार्रवाई कीऔर 2277 मुकदमे दर्ज किए।इन आरोपियों सेपुलिस ने 39 करोड़ 68 लाख रुपये की बरामदगीकी। गैंगेस्टर अधिनियमके तहत 358 आरोपियोंके खिलाफ 110 मुकदमेदर्ज किए गएऔर 35 करोड़ 14 लाखकी संपत्ति जब्तकी। साथ हीकोर्ट में पैरवीकर 188 आरोपियों को सजादिलाई।

अवैध शराबके आरोपियों की 20 करोड़ की संपत्तिजब्त

पुलिस ने अवैधशराब और जहरीलीशराब के खिलाफचले अभियान में 11,157 आरोपियों के खिलाफ 10,821 मुकदमे दर्ज किएहैं और 11 करोड़ 16 लाख रुपये से अधिककी बरामदगी कीहै। इसके अलावागैंगस्टर अधिनियम के तहत 319 आरोपियों के खिलाफ 101 मुकदमे दर्ज किएहैं। साथ हीकोर्ट में पैरवीकर 164 आरोपियों को सजादिलाई गई है।गैंगेस्टर अधिनियम के तहतकरीब 20 करोड़ रुपये कीअवैध संपत्ति जब्तकी गई है।आबकारी अधिनियम के तहत 406 आरोपियों के खिलाफकार्रवाई की गईहै।

पुलिस बजट दोगुनाऔर इंफ्रास्ट्रक्चर मेंहुई वृद्धि

यूपी पुलिसके बजट मेंदोगुने की वृद्धिहुई है। वित्तीयवर्ष 2017-18 में 16,115 करोड़ रुपयेबजट था, जोवित्तीय वर्ष 2021-22 में दोगुनाबढ़कर 30,203 करोड़ रुपये होगया है। इससेप्रदेश में 244 थानों और 133 चौकियों की स्थापनाकी गई है।इसके अलावा नएबने सात जिलोंहापुड़, चंदौली, औरैया, संभल, शामली, अमरोहा और अमेठीमें पुलिस लाइनकी स्थापना कीप्रक्रिया शुरू कीगई है।

यूपी पुलिसमें डेढ़ लाखसे अधिक पदोंपर भर्ती

पिछले साढ़े पांचसाल में यूपीपुलिस में विभिन्नपदों पर 1,53,869 भर्तियांहुई हैं। इसमेंवर्ष 2017 से इससाल मार्च तकसिपाही, दारोगा, लिपिक, कंप्यूटरआपरेटर और जेलवार्डेन के विभिन्नपदों पर 1,44,194 भर्तीकी गई है।इसके अलावा इससाल मार्च सेसितंबर तक विभिन्नपदों पर 9675 भर्तीकी गई है।

औसतन नौमिनट में पहुंचरही यूपी 112

यूपी 112 के रिस्पांसटाइम में 2017 कीतुलना में कईगुना कमी आईहै। पांच सालपहले यूपी 112 कोपहुंचने में जहां 44 मिनट लगते थे, वहीं अब औसतननौ मिनट मेंपहुंच रही है।

यूपी पुलिसने छह माहमें रचा कीर्तिमान

प्रदेश में इसवर्ष एक भीसांप्रदायिक दंगा याजातीय संघर्ष कीघटना नहीं हुई।

इस वर्षविधानसभा निर्वाचन और विधानपरिषद निर्वाचन कोशांतिपूर्ण सकुशल संपन्न करायागया।

प्रतिदिन फुट पेट्रोलिंगकर संदिग्ध लोगोंकी चेकिंग कीजा रही है।पुलिस ने प्रभावीफुट पेट्रोलिंग विकसितकी है। प्रतिदिनपोर्टल पर विवरणअपलोड किया जाताहै।

एक जनवरीसे सात सितंबरतक नौ अपराधीमुठभेड़ में मारेगए और 724 घायलहुए हैं।

एक जनवरीसे पांच सितंबरतक एनएसए केतहत 103 अभियुक्तों को जेलभेजा गया।

गैंगस्टर अधिनियम केतहत एक जनवरीसे 15 अगस्त तक 9166 आरोपियों के खिलाफ 2355 मुकदमे दर्ज कर 1576 करोड़ रुपये की संपत्तिजब्त की गई।

2 views0 comments

Comments


bottom of page