google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

मायावती राजकीय महिला पीजी महाविद्यालय में राष्ट्रीय एकीकरण एवं राष्ट्र निर्माण कार्यक्रम का आयोजन



भारत की स्वतंत्रता की 75 वीं वर्षगांठ की पूर्व संध्या के अवसर पर 14 अगस्त,2021 को कु. मायावती राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय, बादलपुर की एक भारत श्रेष्ठ भारत समिति और 13 गर्ल्स एन.सी.सी बटालियन, गाज़ियाबाद के संयुक्त तत्वाधान में एक दिवसीय ऑनलाइन राष्ट्रीय वेबिनार राष्ट्रीय एकीकरण एवम राष्ट्र निर्माण शीर्षक से आयोजित किया गया। कार्यक्रम/ वेबिनार के प्रथम सत्र में कार्यक्रम संयोजिका एवं एसोसिएट एन.सी.सी ऑफिसर लेफ्टिनेंट (डॉ.) मीनाक्षी लोहनी द्वारा सभी सम्मानित अतिथियों एवं वक्ताओं का स्वागत किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता 13 गर्ल्स एन.सी.सी बटालियन के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल दीप चंद द्वारा की गई।इस अवसर पर कु.मायावती राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय, बादलपुर की प्राचार्या प्रोफ़ेसर (डॉ.) दिव्या नाथ ,13 गर्ल्स एन.सी.सी बटालियन के समस्त शिक्षकों,छात्राओं एवम कैडेट्स की उपस्तिथि एवं सहयोग सराहनीय रहा ।जी.सी.आई पूजा द्वारा समस्त कैडेट्स को राष्ट्रीय एकता और अखण्डता की शपथ दिलाई गई।

अपने स्वागत उदबोधन में कु.मायावती राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय, बादलपुर की प्राचार्या प्रोफ़ेसर (डॉ.) दिव्या नाथ ने कहा कि भारतीय सनातन परम्पराओं की वैज्ञानिकता को प्रमाणित करता हुआ, भारत वो विलक्षण राष्ट्र है जो स्वयं में तो युवा है पर सनातन परम्पराओं एवं मूल्यों से सुसज्जित भी है। उन्होंने कहा कि गंगा और यमुना मात्र दो नदियां ही नही हैं बल्कि भारतीय जीवन मूल्यों एवं भारतीयता का प्रतीक भी हैं। इनका मिलन विभिन्न विचारधाराओं का पवित्र संगम कहलाता है,जहां स्वतः वैचारिक विद्वेष और विषमताएं समाप्त हो जाती है। भारत की प्रमुख विशेषता है अनेकता में एकता एवं वसुधैव कुटुम्बकम ' का भाव जोकि गंगा जमुनी तहज़ीब ' के नाम से समस्त विश्व मे अलंकृत है।

अपने अध्यक्षीय संदेश में 13 गर्ल्स एन.सी.सी बटालियन के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल दीप चंद द्वारा युवा एन.सी.सी कैडेट्स को श्रेष्ठ भारतीय मूल्यों एवम संस्कृति के संरक्षण और संवर्धन के प्रति जागरूक रहने के लिए प्रेप्रित करते हुए उनसे समाज के अनुमोदित मानदण्डों के पालन करने का आह्वाहन किया गया।

उन्होंने कहा कि एन.सी.सी का कैडेट् चाहे युद्धकाल, आपातकाल हो या फिर शांति काल हो वे प्रत्येक परिस्थिति में अपने दायित्वों के निर्वहन हेतु स्वयं को तैयार करे।

मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए एन.सी.सी ऑफिसर सुनीता राजोरा ने कहा कि राष्ट्रीय एकीकरण का अर्थ किसी भी देश में एकता और अखंडता को बनाए रखने के साथ-साथ एक शशक्त एवं समृद्ध राष्ट्र का निर्माण करने के लिए नागरिकों द्वारा महसूस की गई एकजुटता और एकता की भावना से है,जो किसी राष्ट्र को अक्षुण और अखण्ड बनाती है और इससे राष्ट्र पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। जिस देश के लोगों में राष्ट्रीय एकता का भाव जितना ज़्यादा होगा,वह देश उतना ही अधिक सशक्त और समर्थ होगा और किसी भी बाहरी आक्रमण का सामना करने में पूर्णतः सक्षम होगा।

कार्यक्रम में वरिष्ठ जी.सी.आई शालिनी सिंह के निर्देशन में भाषण एवम गायन प्रतियोगिता के आयोजन हुआ,जिसमें विभिन्न इकाइयों की कैडेट्स द्वारा ऑनलाइन मंच को राष्ट्र प्रेम के रंग से सराबोर कर कविता पाठ किया गया । इसी क्रम में जी.सी.आई पूजा एवं निशा के निर्देशन में ऑनलाइन प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता आयोजित की गई जहाँ प्रश्नों के माध्यम से कैडेट्स में राष्ट्रीयता के आयाम को पुनःजागृत किया गया।

ऑनलाइन वेबिनार के अंतिम सत्र में जी.सी.आई पूजा ने कमांडिंग ऑफिसर कर्नल दीप चंद एवं प्रोफेसर (डॉ.) दिव्या नाथ सहित समस्त प्रतिभागियों एवं आयोजनकर्ताओं के प्रति आभार एवं धन्यवाद ज्ञापित किया गया एवं राष्ट्रगान से समापन हुआ।


टीम स्टेट टुडे

स्टेट टुडे टीवी यूट्यूब चैनल का लिंक - Please Subscribe (STATE TODAYTV) https://www.youtube.com/channel/UCgxsv4ROlmk_zwHAUztiOKg




विज्ञापन

9 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0