google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

सिर्फ #Barabanki ज़िले में ही सत्तर हजार बेघरों के सिर पर आ गई छत- 10 साल मोदी सरकार



प्रधानमंत्री आवास योजना केंद्र सरकार की महात्वाकांक्षी योजनाओं में से एक है। उत्तर प्रदेश के जनपद बाराबंकी का रिकार्ड इस योजना को धरातल पर उतारने में शानदार रहा है। विभागीय आंकड़े तो कम से कम इसी ओर इशारा करते हैं।


वर्ष 2023-24 में  प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के अंतर्गत लक्ष्य के सापेक्ष शत-प्रतिशत 1516 आवास स्वीकृत हुए। जिसमें से फरवरी 2024 तक 917 पूर्ण भी हो गए। परियोजना निदेशक डीआरडीए मनीष कुमार ने मोदी सरकार की इस महत्वपूर्ण योजना पर स्टेट टुडे टीवी के साथ विशेष बातचीत में विभागीय आंकड़े प्रस्तुत करते हुए इसकी पुष्टि की।


वर्ष 2014 में केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार ने इस योजना के अन्तर्गत 1.20 लाख रुपये लाभार्थियों को तीन किस्तों में देना तय किया। इसमें पहली किस्त में 40 हजार रुपये, दूसरी किस्त में 70 हजार रुपये व 10 हजार रुपये तीसरी किस्त में दिए जाते हैं। इसके अलावा शौचालय बनवाने के लिए भी धनराशि मुहैया कराई जाती है। वर्ष 2023-24 में जनपद बाराबंकी में 1516 आवास का लक्ष्य प्राप्त हुआ, जिसके सापेक्ष सभी ब्लॉकों से आवेदन लिए गए थे।


बीते एक दशक में बाराबंकी जिले का रिकार्ड पीएम आवास योजना ग्रामीण में लगभग शत-प्रतिशत रहा है।

वर्ष 2016-17 में योजना के अंतर्गत 13933 आवास लक्ष्य के सापेक्ष शत-प्रतिशत 13933 आवास स्वीकृत हुए। जिसमें से निर्धारित अवधि में 13874 आवास बन कर तैयार हो गए। योजना की सफलता इस वर्ष 99.58 प्रतिशत रही।

 

वर्ष 2017-18 में योजना के अंतर्गत 5783 आवास लक्ष्य के सापेक्ष शत-प्रतिशत 5783 आवास स्वीकृत हुए। जिसमें से निर्धारित अवधि में 5763 आवास बन कर तैयार हो गए। योजना की सफलता इस वर्ष 99.65 प्रतिशत रही।




 

वर्ष 2018-19 में योजना के अंतर्गत 5215 आवास लक्ष्य के सापेक्ष शत-प्रतिशत 5215 आवास स्वीकृत हुए। जिसमें से निर्धारित अवधि में 5208 आवास बन कर तैयार हो गए। योजना की सफलता इस वर्ष 99.87 प्रतिशत रही।

 

 वर्ष 2019-20 में योजना के अंतर्गत 4376 आवास लक्ष्य के सापेक्ष शत-प्रतिशत 4376 आवास स्वीकृत हुए। जिसमें से निर्धारित अवधि में 4359 आवास बन कर तैयार हो गए। योजना की सफलता इस वर्ष 99.61 प्रतिशत रही।


वर्ष 2020-21 में योजना के अंतर्गत 150002 आवास लक्ष्य के सापेक्ष शत-प्रतिशत 150002 आवास स्वीकृत हुए। जिसमें से निर्धारित अवधि में 14923 आवास बन कर तैयार हो गए। योजना की सफलता इस वर्ष 99.47 प्रतिशत रही।


वर्ष 2021-22 में योजना के अंतर्गत 10704 आवास लक्ष्य के सापेक्ष शत-प्रतिशत 10704 आवास स्वीकृत हुए। जिसमें से निर्धारित अवधि में 10629 आवास बन कर तैयार हो गए। योजना की सफलता इस वर्ष 99.30 प्रतिशत रही।


वर्ष 2022-23 में योजना के अंतर्गत 13365 आवास लक्ष्य के सापेक्ष शत-प्रतिशत 13365 आवास स्वीकृत हुए। जिसमें से निर्धारित अवधि में 12380 आवास बन कर तैयार हो गए। योजना की सफलता इस वर्ष 92.63 प्रतिशत रही।


बीते एक दशक में प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के अन्तर्गत कुल 69894 बेघरों को आवास मुहैया कराने के लक्ष्य के सापेक्ष 69894 आवास स्वीकृत हुए। जिसमें 68053 आवास निर्धारित अवधि में पूर्ण भी किए गए। इस प्रकार योजना की सफलता बीते एक दशक में 97.37 प्रतिशत रही।


परियोजना निदेशक डीआरडीए मनीष कुमार ने बताया कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार द्वारा संचालित मुख्यमंत्री आवास योजना ग्रामीण के अन्तर्गत जनपद बाराबंकी में वर्ष 2019-20 से वर्ष 2023-24 तक कुल 2975 लक्ष्य के सापेक्ष 2975 आवास स्वीकृत हुए। जिसमें 2649 निर्धारित अवधि में बन कर तैयार भी हो गए। मुख्यमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत वर्ष 2019-20 और वर्ष 2021-22 में शत प्रतिशत लक्ष्य हासिल किया गया।   


टीम स्टेट टुडे टीवी


Comentarios


bottom of page