google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

राजस्थान के गृह राज्यमंत्री के 53 ठिकानों पर आयकर विभाग के छापे


राजस्थान, 7 सितंबर 2022 : आयकर विभाग की टीमों ने बुधवार सुबह राजस्थान के गृह राज्यमंत्री राजेंद्र सिंह यादव, उनके स्वजनों एवं कारोबारी सहयोगियों के ठिकानों पर अलग-अलग टीमों ने छापेमारी की है। यादव के जयपुर स्थित आवास, दफ्तर, कोटपुतली के पाथड़ी में स्थित फैक्ट्री सहित कई ठिकानों पर छापेमारी की गई। प्रदेश में यादव से जुड़े कुल 53 ठिकानों पर छापे मारे गए।

यादव के उत्तराखंड एवं गुरुग्राम स्थित ठिकानों पर भी आयकर विभाग की टीम ने कार्रवाई की है। यादव के ठिकानों पर आयकर विभाग की टीमों ने दस्तावेज और बैंक के लाकर खंगाले। यादव की कोटपुतली स्थित राजस्थान फ्लेक्सिबल पैकिंग लिमिटड फैक्ट्री,एमटी ट्रेडिंग सहित अन्य ठिकानों पर छापेमारे गए हैं।

यादव इस कंपनी के निदेशक और उनके बड़े पुत्र मधुर यादव कंपनी के प्रबंधक है। यहां उनके एक रिश्तेदार की फैक्ट्री व गोदाम पर भी छापा मारा गया। यादव कोटपुतली से विधायक हैं। छापे की कार्रवाई में दौ सौ से ज्यादा आयकर विभाग के कर्मचारी शामिल हुए। करीब सौ सीआईएसएफ के जवानों ने सुरक्षा व्यवस्था का जिम्मा संभाला है।

जानकारी के अनुसार, यादव की फैक्ट्री में मिड-डे मील और फर्टिलाइजर की आपूर्ति के काम आने वाले कट्टे एवं पैकिंग की अन्य सामग्री बनती है। यादव के जयपुर में सिरसी रोड़ एवं बनीपार्क स्थित निजी आवास एवं मालवीय नगर के आवास व दफ्तर से आयकर चोरी व आय से अधिक संपति के कुछ दस्तावेज छापेमारी के दौरान मिले हैं। उनके सिविल लाइंस स्थित सरकारी आवास पर भी आयकर विभाग की टीम पहुंचने की चर्चा सुबह थी, लेकिन यादव ने इससे इनकार किया है।

मंत्री बोले-सांच को आंच नहीं, जांच में सहयोग कर रहा हूं

यादव ने जयपुर में मीडिया से बात करते हुए कहा, सांच को आंच नहीं है। आयकर विभाग की कार्रवाई में हम सहयोग कर रहे हैं। यादव ने कहा कि खुले मन से हमारी जांच करो। हमारा पुश्तैनी व्यापार है। मैं राजनीति में आने से पहले व्यापार करता था। हमारी उत्पादन इकाई है। भाई का उत्तराखंड में कोल्ड स्टोरेज और परिवहन का कारोबार है।

उन्होंने कहा, हमनें किसी भी तरह से गलत काम नहीं किया है। राजनीतिक चंदे से हमारा कोई सरोकार नहीं है। मैं साफ और स्वच्छ राजनीति करता हूं। अगर कारवाई में कोई राजनीतिक दुर्भावना होगी तो वह भी सामने आ जाएगी।

उन्होंने कहा कि कोटपुतली में पैकेजिंग का काम है। फर्टिलाइजर में काम आने वाली वैक्स भी बनतीहै। मिड डे मील से कोई हमारा संबंध नहीं है, हम कट्टे और पैकेजिंग का सामान बनाते हैं। यहां से कट्टे जाने के बाद उसमें कोई क्या भरता है, इसके लिए हम जिम्मेदार नहीं हैं।

उन्होंने कहा कि बुधवार सुबह फैक्ट्री पर सुबह आठ बजे टीम पहुंची थी। कर्मचारी का मेरे पास फोन आया तो मैने कहा जांच करने दो, मेरे समर्थकों ने विरोध की बात कही तो मैंने उन्हे ऐसा करने से मना किया था। छापे की कार्रवाई के बीच नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास यादव के सिविल लाइंस स्थित आवास पर मिलने पहुंचे। यादव के अनुसार कोटपुतली स्थित कंपनी में मैं 2009 से निदेशक हूं। दिल्ली के पीतमपुरा में रजिस्टर्ड इस कंपनी में कुल आठ निदेशक हैं।

यहां भी हुई कार्रवाई

यादव के कारोबार में सहयोगी कवलजीत राजावत और मूलचंद व्यास के ठिकानों पर जयपुर में छापेमारी की गई है। ये दोनों यादव के साथ साईं ट्रेडिंग नाम से कंपनी में साथ कारोबार करते हैं। उत्तराखंड के ऊधम सिंह नगर स्थित यादव के भाई विजयपाल सिंह के ठिकानों पर छापेमारे गए हैं।आयकर विभाग ने भीलवाड़ा के किराना व्यापारी मथुरालाल काबरा की दुकान एवं आवास पर आयकर विभाग की टीम ने कार्रवाई की है।

1 view0 comments

Kommentarer


bottom of page