google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

राजनाथ ने कहा- 4 साल के लिए सेना में भर्ती होंगे युवा, जानें- क्या है अग्निपथ योजना का लक्ष्य


नई दिल्ली, 14 जून 2022 : केंद्र सरकार मंगलवार कोरक्षा बलों केलिए अग्निपथ भर्तीयोजना की घोषणाकी। इसके तहतसैनिकों को सिर्फचार साल केलिए भर्ती कियाजाएगा। रक्षा मंत्री राजनाथसिंह ने सेनामें भर्ती प्रक्रियामें बड़े बदलावके लिए अग्निपथभर्ती योजना' (Agnipath recruitment scheme) का ऐलानकिया। राजनाथ सिंहने बताया किअग्निपथ भर्ती योजना केतहत सेना मेंचार साल केलिए युवाओं कोभर्ती कराया जाएगा।इसके साथ हीउन्हें नौकरी से छोड़तेवक्त सेवा निधिपैकेज मिलेगा।

इस योजनाके तहत सेनामें शामिल होनेवाले युवाओं कोअग्निवीर कहा जाएगा।तीनों सेनाओं केप्रमुखों ने हालही में प्रधानमंत्रीनरेंद्र मोदी कोइस योजना काप्रेजेंटेशन भी दियाथा। इस योजनाके तहत सेनामें युवा कमसमय के लिएभर्ती हो सकेंगे।इस योजना कोअग्निपथ स्कीम नाम दियागया है। इसकेतहत युवा चारसाल के लिएसेना में शामिलहो सकते हैंऔर देश कीसेवा कर सकेंगे।

रक्षा मंत्री राजनाथसिंह आर्मी चीफजनरल मनोज पांडे, एयर चीफ मार्शलवीआर चौधरी, नौसेनाचीफ एडमिरल आरहरि कुमार कीमौजूदगी में सेनाकी अग्निपथ स्कीमकी लॉन्चिंग मौकेपर कहा किअग्निपथ योजना का लक्ष्यसैन्य सेवा कीप्रोफाइल को यूजफुलरखा जाए। इससेयुवाओं की हेल्थऔर फिटनेस लेवलभी अच्छा रहेगा।इस योजना केजरिए विभिन्न क्षेत्रोंमें रोजगार उपलब्धकराएगा। इससे जीडीपीग्रोथ में सहायकहोगी। बेहतर पैकेज, सेवा निधि पैकेजऔर डिसएबिलिटी पैकेजकी भी घोषणाकी गई है।

देश सेवाके दौरान शहीदहोने पर परिजनोंको मिलेगी सेवानिधि

अगर कोईअग्निवीर देश सेवाके दौरान शहीदहो जाता है, तो उसके परिजनोंको सेवा निधिसमेत 1 करोड़ रुपए सेज्यादा की राशिब्याज समेत मिलेगी।इसके अलावा बाकीबची नौकरी काभी वेतन दियाजाएगा। वहीं, अगर कोईअग्निवीर डिसेबिल हो जाताहै, तो उसे 44 लाख रुपए तककी राशि दीजाएगी। इसके अलावाबाकी बची नौकरीका भी वेतनमिलेगा।

अग्निपथ योजना केतहत कितनी मिलेगीसैलरी

अग्निपथ योजना केतहत युवाओं कोपहले साल 4.76 लाखका सालाना पैकेजमिलेगा। चौथी सालतक बढ़कर ये 6.92 लाख तक पहुंचजाएगा। इसके अलावाअन्य रिस्क औरहार्डशिप भत्ते भी मिलेंगे।चार साल कीनौकरी के बादयुवाओं को 11.7 लाख रुपएकी सेवा निधिदी जाएगी। इसपर कोई टैक्सनहीं लगेगा।

क्यों किया गयाफैसला

- देश कीसेवा की भावनारखने वाले युवाओंको मौका मिलेगा।

- सेना मेंशॉर्ट और लॉन्गटर्म नौकरी कामौका मिलेगा।

- तीनों सेनाओं मेंयुवाओं की भागीदारीबढ़ेगी।

पूरे देशमें आयोजित कीजाएगी भर्ती

अग्निवीरों की भर्तीपूरे देश मेंआयोजित की जाएगी।मेरिट में आएयुवाओं को इसमेंचुना जाएगा। चुनेगए कैंडिडेट्स बतौरअग्निवीर 4 साल तकसेना में सर्विसदेंगे। चार सालकी सेवा केबाद अग्निवीर सेनाकी नौकरी छोड़देंगे। इसके बादवह समाज मेंएक स्कील्ड नागरिकके तौर परअनुशासित जीवन जीसकते हैं। मेरिटके आधार परऔर सेना कीजरूरत के हिसाबसे सेना 25 फीसदअग्निवीरों को रेगुलरकैडर में समायोजितकर सकती है।होलोग्राफिक्स, नाइट, फायर कंट्रोलसिस्टम से लैसहोंगे जवान। हैंडहेल्ड टारगेट सिस्टमभी जवानों केहाथ में दिएजाएंगे। इसके लिए 10 हफ्ते लेकर 6 महीने तकट्रेनिंग दिए जाएंगे।साढ़े 17 से 21 साल उम्रके युवा इसमेंनौकरी पा सकतेहैं।

चार सालके लिए सेनामें शामिल होंगेयुवा

अग्निपथ योजना केतहत युवा चारसाल के लिएसेना में शामिलहोंगे और देशकी सेवा करेंगे।यह रक्षा बलोंका खर्च औरउम्र घटाने केसरकार के प्रयासोंका हिस्सा है।चार साल केबाद 80 प्रतिशत सैनिकों कोकार्यमुक्त कर दियाजाएगा और आगेरोजगार के अवसरमुहैया कराने में सेनाउनकी मदद करेगी।देश की सेवाकर चुके ऐसेप्रशिक्षित और अनुशासितयुवाओं के लिएनौकरियां आरक्षित करने मेंविभिन्न कारपोरेशंस को भीरुचि होगी।

सशस्त्र बलों काशुरुआती अनुमान है किअगर योजना केतहत अच्छी खासीसंख्या में सैनिकोंकी भर्ती हुईतो वेतन, भत्तोंऔर पेंशन केमद में हजारोंकरोड़ रुपये कीबचत होगी। रिक्तियांहोने की स्थितिमें योजना केतहत भर्ती सर्वश्रेष्ठयुवाओं को सेनामें बने रहनेका अवसर भीमिल सकता है।सैन्य मामलों केविभाग ने योजनाबनाने से पहलेआठ देशों केइसी तरह केमाडल का अध्ययनकिया था।

2 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0