google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

क्या आप डेबिट,क्रेडिट कार्ड,पेटीएम या फोन पे आदि से भुगतान करते हैं? अगर हां ! तो नए नियम जान लीजिए




अगर आप डेबिट या क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करते हुए आटो डेबिट सिस्टम का प्रयोग करते हैं तो अपने बैंक से एक बार संपर्क जरुर करिए। पेटीएम, फोन पे जैसे प्लेटफार्म्स के जरिए भी अगर लेनदेन करते हैं तो भी आपको अपने बैंक से संपर्क करना होगा।


अब तक मोबाइल बिल, अन्य यूटिलिटी बिल और ओटीटी मंचों के सब्सक्रिप्शन के लिए आटो डेबिट सिस्टम का प्रयोग होता था। अब इस सिस्टम में बदलाव होने जा रहा है। भारतीय रिजर्व बैंक अब ने ऑटो डेबिट सिस्टम की आखिरी तारीख 30 सितंबर 2021 तय की है। एक अक्तूबर से देश में ऑटो-डेबिट लेनदेन में बदलाव हो जाएगा।


अक्तूबर से नए ऑटो डेबिट पेमेंट सिस्टम लागू होने के बाद बैंक और पेटीएम-फोन पे जैसे ऑनलाइन पेमेंट प्लेटफॉर्म्स को किस्त या बिल के पैसे काटने के पहले हर बार ग्राहकों से उनकी अनुमति लेनी होगी। इसकी मंजूरी के बाद ही पैसे काटे जाएंगे। इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए आपके मोबाइल नंबर का बैंक में अपडेट होना जरूरी है। ऐसा इसलिए क्योंकि आपके मोबाइल नंबर पर ही ऑटो डेबिट से जुड़ा नोटिफिकेशन एसएमएस के जरिए भेजा जाएगा।


नए नियमों के अनुसार एक अक्टूबर से बैंकों को ऑटो-डेबिट भुगतान की तारीख से पांच दिन पहले ग्राहक को एक नोटिफिकेशन भेजना होगा। भुगतान केवल तभी हो पाएगा, जब ग्राहक मंजूरी देगा। इसके अलावा, अगर भुगतान रकम 5,000 रुपये से ज्यादा है तो बैंक ग्राहक को ओटीपी भी भेजेगा।


क्यों हो रहा है बदलाव?


मौजूदा समय में ज्यादातर लोग अपने मोबाइल, पानी का बिल, आदि के बिलों को ऑटो पेमेंट मोड में डाल देते हैं। यानी डिजिटल पेमेंट प्लेटफॉर्म या बैंक ग्राहक से एक बार अनुमति लेने के बाद हर महीने बिना किसी जानकारी के खाते से पैसे काट लेते हैं। इससे फ्रॉड की संभावना बढ़ जाती है। इसलिए बढ़ते फ्रॉड के मद्देनजर यह बदलाव किया जा रहा है।


नए नियम लागू होने से करोड़ों ग्राहक प्रभावित होंगे। हालांकि, यूपीआई के ऑटोपे सिस्टम से ऐसे ऑटो-डेबिट भुगतान पर कोई असर नहीं होगा। बैंकों ने अपने ग्राहकों को इस नए नियम के बारे में जानकारी देनी शुरू कर दी है। देश के बड़े निजी बैंक एक्सिस बैंक ने अपने ग्राहकों ऑटो डेबिट नियम के बार में सूचित किया है।


टीम स्टेट टुडे




86 views0 comments