google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

सरकार के इशारे पर हुआ भाकियू में बिखराव, बिजनौर में बोले नरेश टिकैत


लखनऊ, 21 मई 2022 : भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत ने कहा कि सरकार के इशारे पर भारतीय किसान यूनियन में बिखराव हुआ है।

आजाद किसान यूनियन के भाकियू में विलय का एलान

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत ने एक बैंक्वेट हाल में हुई पत्रकार वार्ता में कहा कि सरकार के इशारे पर भाकियू में बिखराव हुआ है। अब वह कुछ गलतफहमी एवं वैचारिक मतभेद की वजह से भाकियू से अलग हुए संगठन के अपने पुराने वफादार किसान नेताओं को फिर से अपने कुनबे में मिलाने के लिए आए हैं। पत्रकार वार्ता में आजाद किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी राजेंद्र सिंह ने आकियू के भाकियू में विलय किए जाने का एलान किया। वहीं भाकियू भानु के जिलाध्यक्ष नरेश प्रधान भी अपने साथियों के साथ भाकियू में शामिल हो गए। भाकियू अध्यक्ष ने कहा कि यूनियन हमेशा किसानों के हक की लड़ाई लड़ती रही। कृषि कानूनों को लागू किए जाने के विरोध में दिल्ली बार्डर पर अन्य किसान संगठनों के साथ 13 माह आंदोलन चलाया। उन्होंने कहा कि चुनाव में भाजपा का विरोध तो किया, किंतु किसी अन्य दल का खुला समर्थन भी नहीं किया गया।

'आंदोलन के लिए तैयार रहें किसान'

पत्रकार वार्ता के बाद उन्होंने कार्यक्रम में मौजूद किसानों से आह्वान किया कि वह संगठन को मजबूत बनाने के साथ-साथ भविष्य में होने वाले आंदोलन के लिए तैयार रहे। इससे पहले जिलाध्यक्ष चौधरी कुलदीप सिंह के नेतृत्व में किसानों ने बैराज गंगा घाट पर पहुंचे चौधरी नरेश टिकैत का माल्यार्पण किया। वहीं चौधरी नरेश टिकैत ने नुमाइश ग्राउंड चौक पर पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। इसके बाद वह सीधे कार्यक्रम स्थल पहुंचे। यहां उनका आजाद किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी राजेंद्र सिंह ने अपनी आजाद किसान यूनियन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष वीरेंद्र सिंह, राष्ट्रीय संरक्षक व रिटायर्ड सीओ एमपी सिंह, हाजी शकील, मास्टर गिरिराज सिंह व राहुल पंडित आदि ने स्वागत किया।

1 view0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0