google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

सावरकर पर बयान देकर घिरे राहुल गांधी, शिवसेना नेता मनीषा कायंडे ने दी नसीहत


मुंबई, 9 अक्टूबर, 2022 : शिवसेना नेता मनीषाकायंडे ने सावरकरपर कांग्रेस सांसदराहुल गांधी कीटिप्पणी की निंदाकी है। उन्होंनेकहा कि राहुलगांधी को इसतरह के बयानदेने से पहलेसोचना चाहिए। कांग्रेसकी भारत जोड़ोयात्रा का नेतृत्वकर रहे राहुलगांधी ने कर्नाटकमें एक रैलीमें कहा थाकि सावरकर स्वतंत्रतासंग्राम के दौरानअंग्रेजों के लिएकाम करते थेऔर उन्हें इसकेलिए पैसे मिलतेथे। राहुल गांधीने टिप्पणी करतेहुए आरोप लगायाथा कि राष्ट्रीयस्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने भी ब्रिटिशराज का समर्थनकिया था।

राहुल गांधी कोनसीहत

कायंडे ने कहा, 'राहुल गांधी को सावरकरके खिलाफ बोलनेसे पहले सोचनाचाहिए। हम राहुलगांधी के बयानकी निंदा करतेहैं और सावरकरके प्रति शिवसेनाकी राय एकजैसी है, जोकभी नहीं बदलेगी।' उन्होंने कहा किराहुल गांधी कोइस तरह काबयान देने सेखुद को रोकनाचाहिए।

पहले भीविवादों में घिरचुके राहुल गांधी

बता देंकि पहले भीऐसे कई उदाहरणसामने आए हैं, जब राहुल गांधीने सावरकर केखिलाफ बयान दियाहै, जिसके बादउद्धव ठाकरे नेसोनिया गांधी से बातकी और कहाकि महाराष्ट्र मेंएक बड़ा वर्गहै, जो सावरकरका समर्थन करताहै। ठाकरे नेसोनिया गांधी से कहाथा कि राहुलगांधी को इसतरह के बयानदेने से बचनाचाहिए। उन्होंने कहा, 'हमराहुल गांधी केबयान का कड़ाविरोध करते हैं।'

आरएसएस नेता नेकी निंदा

इस मामलेको लेकर शनिवारको आरएसएस केनेता इंद्रेश कुमारने भी राहुलगांधी की टिप्पणीकी निंदा कीथी। उन्होंने कहाकि कांग्रेस सांसदबिना तथ्यों केबोलने के लिएजाने जाते हैंऔर यह राजनीतिमें असफलता परउनकी निराशा काएक रूप है।इंद्रेश कुमार ने कहा, 'सावरकर और आरएसएसपर राहुल गांधीका बयान झूठसे भरा है।कांग्रेस के लिएआरएसएस और सावरकरपर झूठे आरोपलगाना एक फैशनबन गया है।'

राहुल गांधी परझूठ बोलने काआरोप

आरएसएस नेता नेकहा कि सावरकरएक स्वतंत्रता सेनानीथे और अंग्रेजोंने उन्हें आजीवनकारावास में डालदिया था। राहुलगांधी को झूठबोलना बंद करदेना चाहिए। उन्होंनेकहा, 'कांग्रेस नेदेश को विभाजितकिया था। नेहरूने भारत केविभाजन में अंग्रेजोंका समर्थन कियाथा। वे वास्तवमें नेहरू परिवारहैं, गांधी परिवारनहीं। राहुल गांधीतथ्यहीन बातें बोलने केलिए जाने जातेहैं।'

0 views0 comments

Comments


bottom of page