google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

शिवपाल यादव बोले- नेताजी के अपमान का दंश भोग रहे अखिलेश


एटा, 19 सितंबर 2022 : यदुकुल पुनर्जागरण मिशन के संरक्षक शिवपाल यादव ने सपा अध्यक्ष पर सीधा वार करते हुए कहा कि अखिलेश चुनावों में तीन बार किए गए नेताजी के अपमान का दंश भोग रहे हैं। उन्होंने न मेरा सम्मान किया न नेताजी का। यादव समाज के लोग अखिलेश का साथ देते रहे, मगर उन्होंने चापलूसों के कहने पर अपने ही लोगों को अलग करना शुरू कर दिया। मिशन के सम्मेलन में शिवपाल ने अपने सजातियों के बीच अपने दर्द को खूब साझा किया।

शिवपाल ने किया अखिलेश यादव पर हमला

जिला पंचायत के जनेश्वर मिश्र प्रांगण में आयोजित यदुकुल पुनर्जागरण मिशन के सम्मेलन में शिवपाल ने अपने भाषण की शुरूआत ही अखिलेश पर प्रहार करते हुए की। उन्होंने कहा कि आप बताइए हमारी क्या गलती थी। हमने 100 सीटें मांगीं थीं, लेकिन एक दे दी। अगर यह हमें अधिक सीटें दे देते तो मुख्यमंत्री तो अखिलेश ही बनते। उन्होंने 2017, 2019 और फिर 2022 के चुनाव के दौरान नेताजी की बात नहीं मानी। वरना सपा आज सम्मानजनक स्थिति में होती। मुझे स्टार प्रचारक तक नहीं बनाया गया।

शिवपाल सिंह यादव बोले- संगठन सिर्फ यादव समाज का नहीं

शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि यदुकुल पुनर्जागरण मिशन का मतलब सिर्फ यह नहीं कि यह संगठन सिर्फ यादव समाज का ही है। बल्कि जितनी भी ओबीसी जातियां हैं, वे सब यदुकुल में ही आती हैं। इसलिए इन सब जातियों को जोड़कर संगठन काम करेगा। हम अन्याय के खिलाफ लड़ेंगे, सड़क पर आकर प्रदर्शन करेंगे। अब सामाजिक न्याय की लड़ाई लड़ी जाएगी। अकेले यादव कुछ नहीं कर सकते, सबको साथ लेकर चलना पड़ेगा।

यदुकुल एकजुट, सेना में बननी चाहिए अहीर रेजीमेंट

शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि नौकरशाही भ्रष्टाचार में लिप्त है। थानों, चौकियों, तहसीलों में बिना रिश्वत के काम नहीं हो रहे। स्थिति यह है कि भाजपा का कोई विधायक या मंत्री कोई सिफारिश कर देता है तो रिश्वत और ज्यादा बढ़ जाती है। इसी अन्याय के विरुद्ध हमें लड़ना है और यह लड़ाई तभी जीत सकते हैं, जब यदुकुल एकजुट हो। इसीलिए इस मिशन को खड़ा किया गया और अब इसका विस्तार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अहीर रेजीमेंट की बात हमारे अलावा किसी ने नहीं की। यह रेजीमेंट सेना में बननी चाहिए।

पिछड़े वर्ग की जातियों और यादव समाज को मिलकर बनाना है यदुकुल

इसके अलावा मिशन के संस्थापक भरत गांधी ने कहा कि यदुकुल को लेकर किसी को भ्रम में नहीं रहना चाहिए। पिछड़े वर्ग की जातियों और यादव समाज को मिलाकर यदुकुल बना है। उन्होंने कहा कि यादव समाज के किसी भी व्यक्ति पर आंच आए तो पूरे समाज को एकजुट होकर मुकाबला करना है। उन्होंने अहीर रेजीमेंट बनाने, जातियों की जनगणना, प्राइवेट कंपनी में आरक्षण, अग्निवीर योजना रद्द करने के प्रस्ताव भी पारित कराए।

डीपी यादव ने कहा-संसद में उठाया था अहीर रेजीमेंट का मुद्दा

मिशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष डीपी यादव ने कहा कि अहीर रेजीमेंट का मुद्दा जब हम सांसद थे तब सदन में उठाया था। यह रेजीमेंट बननी चाहिए। हम लोग बहुत लोगों को परख चुके, लेकिन धोखे के अलावा कुछ नहीं मिला। आज सबको एकजुट होने की जरूरत है, ताकि जिन लोगों ने छल किया, उनका मुकाबला कर सकें। सम्मेलन में कई पूर्व विधायक, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष आदि भी मौजूद थे।

1 view0 comments

Comments


bottom of page