google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

तीस सेकेंड़ में पिकअप ने छीनी छह जिंदगियां, सीएम के बाद पीएम ने भी जताया दुख


लखनऊ, 9 जुलाई 2022 : चित्रकूट में रफ्तार के कहर में छह जिंदगी चली गई। प्रत्यक्षदर्शियों अनिल त्रिपाठी व कौहारी प्रधान रविकरण यादव के मुताबिक हाईवे पर टमाटर लदी पिकअप करीब 80 से 90 किमी की स्पीड से दौड़ती आई। ऐसा लगा कि चालक नींद में था। जैसे ही बरातियों की ओर पिकअप घूमी तो लोगों ने शोर मचाया। तभी चालक की नींद खुली और उसने ब्रेक की जगह एक्सीलेटर मे पैर रख दिया। तो गाड़ी और स्पीड में पलक झपकते सड़क से 15 फीट दूर बैठे बरातियों रौंदते निकल गई। छह जिंदगी के खात्मे में 30 सेकेंड भी नहीं लगे। इससे पहले कुछ लोग समझ पाते चीख पुकार मच गई। हादसे के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रत्येक मृतक के स्वजन को दो-दो लाख रुपये एवं घायलों को 50 हजार रुपये आर्थिक मदद दिए जाने के निर्देश दिए हैं। वहीं प्रधानमंत्री ने भी हादसे पर दुख जताया है। पीएमओ इंडिया के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से किए गए ट्वीट में हादसे पर पीड़ा जताने के साथ ही घायलों के जल्द स्वस्थ्य होने की कामना की गई।

पांच हजार में आए आई थी बैंड पार्टी

जारी के प्यारेलाल अपनी बैंड पार्टी लेकर आए थे। हादसे में बेटे रामरुप के खो चुके प्यारेलाल बताते हैं कि गांव के रामचरन के पुत्र कालका प्रसाद वर्मा की शादी में पांच हजार रुपये में बैंड पार्टी बुक की थी। पार्टी में उनके बेटे रामरूप के अलावा छक्का, भानू, भगवानदास शामिल थे। वह शौच के लिए वहां से कुछ पल पहले ही उठे थे। उन्होंने चीख पुकार सुनी तो भागकर आए। वहां मंजर देख काफी देर कुछ समझ ही नहीं पाए कि क्या हुआ। भौंरी की तैयारी चल रही थी। सभी को उसमें बाजा बजाने जाना था। जिसके लिए वह तैयार हो रहे थे।

हादसे में बाद बराती लौटे, शाम को हुई विदाई

छह बरातियों के मौत के बाद विवाह घर में मातम का माहौल था। इसको देखते हुए बरातियों को 11 बजे बस से भेज दिया गया। दुल्हा व उसके पांच रिश्तेदार रुक गए थे। ग्राम प्रधान प्रतिनिधि विनीत द्विवेदी बताते हैं कि अपराह्न तीन बजे गमगीन माहौल में भौंरी, कन्यादान के कार्यक्रम संपन्न कराने के बाद चार बजे बरात को विदा कर दिया गया।

2 views0 comments

Comments


bottom of page