google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

हाथ में कुरान लेकर महाराजगंज जेल रवाना हुए इरफान, बीवी-बच्चों को देख फफक कर रोए


कानपुर, 21 दिसम्बर, 2022 : महिला का प्लाट कब्जा करने की कोशिश व आगजनी, फर्जी आधार कार्ड से हवाई यात्रा और बांग्लादेशी नागरिक रिजवान मोहम्मद को भारतीय बताने का प्रमाण पत्र देने के आरोप में जेल में बंद सपा विधायक इरफान सोलंकी बुधवार को प्रशासनिक आधार पर कानपुर जिला कारागार से महाराजगंज जिला कारागार के लिए रवाना हो गए। पुलिस के काफिले के अलावा उनके परिवार के कुछ लोग और समर्थक भी महाराजगंज तक साथ गए हैं।

सपा विधायक इरफान सोलंकी कड़ी सुरक्षा के बीच महाराजगंज जेल के लिए रवाना

जेल में विभिन्न मामलों में बंद सपा विधायक इरफान सोलंकी को प्रशासनिक आधार पर मंगलवार जिला कारागार कानपुर से जिला कारागार महाराजगंज स्थानांतरित करने का आदेश हुआ था। सुबह करीब 10:15 बजे कड़ी सुरक्षा के बीच इरफान सोलंकी को पुलिस महाराजगंज जेल के लिए लेकर रवाना हुई। काली पेंट और सफेद जैकेट पहने इरफान सोलंकी जेल से बाहर आए तो उनके हाथों में एक किताब भी थी। जब इरफान से पूछा गया कि क्‍या ये कुरान है तो उन्‍होंने जवाब में सिर हिला कर हां कहा।

बीवी-बच्चों को देख फिर रोए इरफान

जेल के बाहर पत्नी नसीम सोलंकी और बच्चों के साथ अन्य परिवारीजन उनका इंतजार कर रहे थे। परिवार वालों को देखते ही उनकी आंखों से आंसू छलक पड़े। उन्होंने हाथ हिलाकर परिवार वालों का अभिवादन किया तो बच्चों ने भी हाथ हिलाकर ही जवाब दिया। इस बीच पुलिस वालों ने उन्हें सुरक्षा कारणों से तेजी के साथ गाड़ी में बैठने को कहा तो विधायक से पुलिसकर्मियों से कुछ नोकझोंक भी हुई। इसके बाद विधायक का काफिला महाराजगंज के लिए रवाना हो गया।

पत्‍नी नसीम ने कहा सरकार बदले की भावाना से कर रही काम

इससे पहले जब मीडियाकर्मियों ने इरफान सोलंकी से कुछ बोलने के लिए कहा तो उन्होंने हाथ हिलाकर बात करने से मना कर दिया। हालांकि जब उनसे पूछा गया कि उनके हाथ में जो किताब है वह कुरान है तो उन्होंने सहमति का सर हिलाया और गाड़ी में जाकर बैठ गए। जेल अधीक्षक डॉ बीडी पांडेय ने बताया कि सपा विधायक को सड़क मार्ग से महाराजगंज ले जाया जा रहा है। इसके लिए सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए गए हैं।

कमिश्नरेट पुलिस से पुलिस बल मुहैया कराया गया है। इसके अलावा बीच में पड़ने वाले जनपदों को भी अलर्ट मोड पर रखा गया है। इरफान सोलंकी के रवाना होने के बाद जब इस संबंध में उनकी पत्नी नसीम सोलंकी से बात की गई तो उन्होंने कहा कि सरकार बदले की भावना से काम कर रही है और उनके पति सुरक्षित नहीं है।

12 views0 comments
bottom of page