google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

काली रात का स्याह सच- देखिए क्या हो रहा है



अपराधी अक्सर रात के अंधेरे का फायदा उठाते हैं खासतौर से तस्कर। गौवंशों को तस्करी उत्तर प्रदेश में कोई नई बात नहीं है। योगी सरकार की तमाम कोशिशों और सख्ती के बावजूद गौ तस्करों के हौसले नहीं टूटे।


गनीमत इतनी है कि सजग पुलिस कई बार ऐसे तस्करों को पकड़ने में कामयाब हो जाती है और कानून व्यवस्था का इकबाल बच जाता है।


एक बार फिर उत्तर प्रदेश की बहराइच पुलिस ने 31 गौवंशों के प्राण गौतस्करों से बचाए हैं। वध के लिये जा रहे 31 गोवंशो को पुलिस टीम ने तस्करों के कब्जे से बरामद किया है।


एसीपी बहराइच सुजाता सिंह ने हुजुरपुर इलाके का औचक दौरा किया और शाम होते होते गो-तस्करी के रैकेट का बड़ा खुलासा हो गया।


UP47 T 1239 नम्बर की ट्रक से 31 बैलों की खेप वध के लिए ले जाई जा रही थी। CO कैसरगंज के नेतृत्व में थाना हुजुरपुर की पुलिस ने गाजीपुर कोड़री इलाके से गौवशों की खेप को बरामद किया।


एक बाग में तस्करों का गिरोह ट्रक में गौवंशों को लोड करा रहा था। मुखबिर की सूचना पर पुलिस टीम ने मौके पर छापा मारा। इस दौरान तस्कर तो फरार हो गए लेकिन गौवंशों को बचाने में पुलिस कामयाब रही।


इस पूरे मामले में स्थानीय पुलिस सवालों के घेरे में आ गई है। ट्रक समेत जानवरों को पुलिस ने अपने कब्जे में लेकर पशु क्रूरता अधिनियम सहित तमाम संगीन धाराओं में FIR दर्ज की है।


इस मामले में कई एंगिल से जांच हो रही है। सूचना मिली है कि स्थानीय पुलिस की मिलीभगत के चलते ही तस्करों के हौसले बुलंद हैं।


टीम स्टेट टुडे




विज्ञापन

128 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0