वीकेंड लॉकडाउन पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का बड़ा फैसला, तीसरी लहर को लेकर सरकार सतर्क



रिपोर्ट - आदेश शुक्ला


कोरोना वायरस के संक्रमण की दूसरी लहर का असर काफी हद तक कम हुआ है। संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए यूपी समेत देश भर की राज्य सरकारों ने कोरोना कर्फ्यू और लॉकडाउन का सहारा लिया। लोग घरों में टिके तो स्थिति काबू में आई।


धीरे धीरे सरकारों ने व्यवस्थाओं को पटरी पर लाना शुरु किया है। इस क्रम में उत्तर प्रदेश सरकार ने भी कोरोना कर्फ्यू की समय सीमा घटा कर रात 9 बजे से सुबह 7 बजे तक कर दिया है।


दूसरी लहर पर प्रभावी नियंत्रण के बाद भी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कोई बड़ा खतरा मोल लेने से बच रहे हैं। प्रदेश में वीकेंड लॉकडाउन जारी रहेगा। अभी शनिवार और रविवार को बंदी लागू है। हांलकि योगी आदित्यनाथ सरकार ने वीकेंड लॉकडाउन पर कोविड प्रोटोकॉल के साथ धार्मिक स्थल को खोलने का फैसला किया है।


अवर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी के अनुसार कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर के सुस्त पडऩे के बाद प्रदेश सरकार ने वीकेंड लॉकडाउन शनिवार- रविवार को धार्मिक स्थल खोलने का फैसला लिया हैं। सरकार ने सोमवार को इसका दिशा-निर्देश जारी कर दिया है। इस दौरान भी एक समय में धर्म स्थल के अंदर केवल पांच श्रद्धालु ही मौजूद रह सकेंगे।


बहुत दिनों के बाद रात नौ बजे तक सोमवार को बाजारों की रौनक बनी रही। कई लोग सिर्फ ये देखने घरों से निकले कि रात में बाजार की सुंदरता निहारे अरसा बीत गया।


राज्य सरकार ने बाजार, रेस्टोरेंट और शापिंग माल को रात 9 बजे तक के लिए खोलने की अनुमति दे दी है। फिलहाल प्रदेश में साप्ताहिक बंदी लागू रहेगी। इस दौरान सभी बाजारों, रिहायशी इलाकों और दफ्तरों को सैनिटाइज करने का काम किया जाएगा।


टीम स्टेट टुडे


विज्ञापन