google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

CM योगी के सख्त शासन और अभिजात मिश्रा के कदम से घबराए सीएम भूपेश बघेल ने अपने पिता को कराया गिरफ्तार



ब्राह्मण समाज पर अभद्र टिप्पणियां करने वाले छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंद कुमार बघेल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। नंद कुमार बघेल को रायपुर की एक अदालत में पेश किया गया। कोर्ट ने नंद कुमार को 15 दिन के न्यायिक हिरासत में भेज दिया । रायपुर की एक अदालत ने बघेल को 21 सितंबर को फिर से अदालत में पेश किया जाएगा।


आपको बताते चलें कि ब्राह्मण समाज के खिलाफ सीएम बघेल के पिता नंद कुमार लगातार आग उगलते रहे हैं। बीते दिनों उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ आकर भी उन्होंने ब्राह्मणों के खिलाफ अभद्र टिप्पणियां की थीं। जिसके बाद उत्तर प्रदेश भाजपा के युवा नेता और भारतीय जनता युवा मोर्चा के पूर्व राष्ट्रीय महामंत्री अभिजात

मिश्रा ने लखनऊ के हजरतगंज थाने में तहरीर दी थी।


लखनऊ में योगी सरकार की सख्ती और अभिजात मिश्रा के कदम से घबराए छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को अपने ही पिता की गिरफ्तारी के लिए आदेश देने पर मजबूर होना पड़ा। पिता के खिलाफ शिकायत के बाद सीएम भूपेश बघेल ने ही पिता पर एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए थे। उन्होंने कहा कि पिता के रूप में उन्हें पूरा सम्मान, लेकिन माहौल बिगाड़ने वाले लोगों पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। सीएम बघेल ने कहा था कि कानून सब के लिए बराबर है, चाहे मेरे पिता ही क्यों न हों। नंद कुमार बघेल के खिलाफ इसी मामले में रायपुर में भी केस दर्ज हुआ था।




जानिए क्या है बघेल का बखेड़ा - ये भी पढ़िए
https://www.statetodaytv.com/post/abhijat-mishra-took-legal-action-against-chhatisgarh-cm-bhupesh-baghel-father-insulted-brahmin-samaj 



हांलाकि जल्द ही सीएम भूपेश बघेल की पूरी कवायद की असलियत भी सामने आ गई। गिरफ्तारी के बाद सीएम भूपेश बघेल के पिता नंद कुमार बघेल की थाने से तस्वीर सामने आई जिसमें वो पुलिस थाने में बैठकर खाना खा रहे हैं। तस्वीर में उनकी थाली इंस्पेक्टर की टेबल पर लगाई गई है। इसके बाद छत्तीसगढ़ सरकार की खूब किरकिरी हो रही है और पूरे प्रकरण को ट्रोलर्स पॉलिटिकल ड्रामेबाजी करार दे रहे हैं ।




उधर नंद कुमार के वकील गजेंद्र सोनकर ने का कहना है कि छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल के पिता नंद कुमार बघेल को रायपुर की एक अदालत ने कथित तौर पर ब्राह्मण समुदाय के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने के आरोप में 15 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। उनके निर्देश के अनुसार, मैंने आज उनकी जमानत के लिए आवेदन दायर नहीं किया।


हालांकि जानकार बता रहे हैं कि उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में दिए बयान के बाद जिस तरह ब्राह्मण समाज में गुस्सा पनपा और अभिजात मिश्रा ने कानूनी कार्रवाई की पहल की उसके बाद सीएम योगी भी सख्त हो गए। ऐसे में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने अपने पिता को यूपी पुलिस की गिरफ्तारी से बचाने के लिए छत्तीसगढ़ पुलिस को ही गिरफ्तारी के आदेश दे दिए।



लखनऊ में की थी यह टिप्पणी


नंद कुमार बघेल ने पिछले महीने लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम में ब्राह्मणों पर टिप्प्णी की थी। मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कथित तौर पर कहा था, 'अब वोट हमारा राज तुम्हारा नहीं चलेगा। हम आंदोलन करेंगे। ब्राह्मणों को गंगा से वोल्गा (रूस की एक नदी) भेजेंगे, क्योंकि ब्राह्मण विदेशी हैं। ब्राह्मण सुधर जाएं या फिर वोल्गा जाने को तैयार हो जाएं। '


पहले प्रतिबंधित करना पड़ी थी किताब


सीएम भूपेश बघेल के पिता पहले भी ब्राह्मणों के खिलाफ टिप्पणी कर चुके हैं। चुनाव से पहले उन्होंने कहा था कि कांग्रेस को राजस्थानी ब्राह्मणों को टिकट नहीं देना चाहिए। करीब 20 साल पहले उनकी किताब 'ब्राह्मण कुमार रावत को मत मारो' ने भी काफी बवाल करवाया था, जिसके बाद सरकार ने इस किताब की बिक्री को प्रतिबंधित कर दिया था।


टीम स्टेट टुडे



विज्ञापन