google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

तड़पती सांसे, फड़फड़ाती रुहें, मौत का सन्नाटा और चिताओं की आग से जलते शहर में जारी है जिंदगी की जंग



उत्तर प्रदेश के हालात कोरोना वायरस ने जितनी तेजी बिगाड़े हैं उससे कहीं ज्यादा ढीलापन व्यवस्थाएं बनाने वालों ने दिखाया है। राजधानी लखनऊ का हाल सबसे बुरा है। लखनऊ में बीते 24 घंटे में 6598 नए केस आए हैं। कुल सक्रिय मामलों संख्या 40753 हो गई है। 1675 लोग ठीक भी हुए हैं जबकि शहर में 35 लोग कोरोना के कारण चल बसे।


पूरे प्रदेश में शुक्रवार को 27426 नए मरीज मिले हैं। जबकि 103 लोगों की मौत हो गई है।


अब स्थिति ऐसी है कि सिर्फ अप्रैल के महीने में हर दिन करीब 44 लोगों की जान कोरोना से गई है। शासन की ओर से गठित कमेटी मौत के कारणों की ऑडिट कर रही है। हांलाकि पहली नजर में इन मौतों की वजह वजह फेफड़े में थक्का बनना व शरीर के विभिन्न अंगों का काम करना बंद कर देना बताया जा रहा है।


इस बार वायरस का असर तेज होने की वजह से संक्रमण की दर हर दिन एक से डेढ़ फीसदी बढ़ रही है। कुल मिलने वाले मरीजों की अपेक्षा संक्रमण की दर अभी करीब 0.45 फीसदी है, लेकिन दिन के आधार पर देखा जाए तो अप्रैल बेहद खतरनाक साबित हो रहा है। पिछले 15 दिन में लखनऊ में सर्वाधिक 199 लोगों की मौत हुई है।


राजधानी लखनऊ के हालात इतने खराब हैं कि बीते दिन जब श्मशान घाट पर जलते शवों का वीडियो वायरल हुआ तो सरकार ने तत्काल एक्शन में आते हुए एक अस्थाई दीवार का निर्माण कराया ताकि भविष्य में इस तरह की घटनाओं का ऐसा वीभत्स चित्रण ना हो जिससे लोगों का मनोबल टूटे ।


गंभीर हालात को देखते हुए सरकार ने बदले नियम

सीएम योगी का कोरोना की रोकथाम के लिए बड़ा फैसला
अब बिना टेंडर सरकारी अस्पताल खरीदे सकेंगे दवाइयां और उपकरण
स्थानीय स्तर पर सेवाओं या मैनपावर के लिए टेंडर निकालने की जरूरत नहीं
आपात परिस्थितियों को देखते हुए खरीदारी के लिए दी गई 3 महीने की छूट
तात्कालिक जरूरतों के अनुसार 12 अप्रैल से 11 जुलाई तक कई शर्तों पर दी गई अनुमति



लखनऊ में जिंदगी और मौत के बीच है ये दीवार

कोरोना टेस्ट और कोविड मरीजों के लिए बदले नियम


पहले कोविड हॉस्पिटल में बिना कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट के भर्ती किया जा रहा था लेकिन अब लखनऊ में अगर कोई ऐसा मरीज है जिसकी कोविड जांच नहीं हुई है या रिपोर्ट प्रतीक्षारत है और वो अस्पताल आता है तो अस्पताल द्वारा उस मरीजो का संपूर्ण कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए उचित उपचार शुरु करेगा।


पहले कोविड कमांड सेंटर से जब तक हास्पिटल एलॉट नहीं होता था तब तक इलाज शुरु नहीं होता था। लेकिन अब सभी कोविड पाजिटिव मरीजों का इलाज तब तक किया जाएगा जब तक जनपदीय इंटीग्रेटेड कोविड कंट्रोल एंड कमांड सेंटर से उन्हें कोई कोविड अस्पताल आवंटित नहीं किया जाता।


रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की पहल

लखनऊ में DRDO दो कोविड हॉस्पिटल तैयार करेगा
दोनों मिला कर 500 बेड की क्षमता के होंगे हॉस्पिटल 
मिशन मोड में बनेंगे हॉस्पिटल
दिल्ली से वेंटिलेटर भी लखनऊ भेज रहें हैं राजनाथ सिंह
विशेष विमान से डॉक्टर्स की टीम भी भेज रहें रक्षा मंत्री



हरिद्वार कुंभ को समाप्ति की घोषणा की गई

पंचायती अखाड़ा,निरंजनी अखाड़े ने की घोषणा
अखाड़े ने कुंभ माह समाप्ति की घोषणा की है
अखाड़े के सचिव और कुंभ प्रभारी ने घोषणा की
साधु-संतों से मूल स्थानों पर लौटने का अनुरोध
27 अप्रैल चैत पूर्णिमा का स्नान प्रतीकात्मक होगा'
केवल प्रमुख संत अकेले जाकर स्नान करेंगे- रवींद्र पुरी 
'न शाही जुलूस निकलेगा और न ही शाही स्नान होगा'


राजधानी लखनऊ के जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने तत्काल प्रभाव से भूल भुलैया, शाही हमाम बंद करने का आदेश दिया है। साथ ही पिक्चर गैलरी , शहनजफ इमामबाड़ा भी पर्यटकों के लिए अग्रिम आदेश तक बंद कर दिया गया है। जिलाधिकारी ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर फैसला लिया है।


टीम स्टेट टुडे


विज्ञापन
विज्ञापन


126 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0