कोरोना संक्रमित एवं उनके परिवारी जनों को भोजन पहुंचा रहे हैं स्वयंसेवक - संपर्क करें (8188882387)



उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कोरोना का सबसे ज्यादा प्रभाव रहा है। एक एक दिन में छ-छ हजार लोग संक्रमित मिले। ये सिलसिल कई दिनों तक चला। संक्रमितों का आंकड़ा साठ हजार को कुछ ही दिनों में पार कर गया। इस बीच लखनऊ के अस्पतालों में दवाई, आक्सीजन, बेड आदि की भी खूब किल्लत रही। अभी भी ये क्रम जारी है। व्यवस्थाएं ध्वस्त हुईं तो समाजसेवी आगे आए। बहुत सारे लोग अभी भी ऐसे हैं जिन्होंने कोरोना टेस्ट नहीं कराया लेकिन लक्षण दिखने पर पूरे पूरे परिवार ने दवाएं खाईं और घर पर ही आइसोलेट रहे।



ऐसी विषम परिस्थितियों के बीच कोरोना महामारी से संक्रमित लोगों व उनके साथ रह रहे परिवारी जनों को सुबह-शाम भोजन देने का काम राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ सेवा भारती के द्वारा शुरू किया गया है।



लखनऊ महानगर में सेवा भारती के स्वयंसेवक पिछले 15 दिनों से कोरोना संक्रमित लोगों को भोजन उपलब्ध करा रहे हैं। इसके साथ ही अन्य किसी भी प्रकार के कामों में सहयोग कर रहे हैं।



विभाग कार्यवाह अमितेश जी के अनुसार महानगर में सेवा भारती के स्वयंसेवक चार प्रमुख अस्पतालों डॉ राम मनोहर लोहिया अस्पताल, बलरामपुर अस्पताल, लोक बंधु व किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज में दोपहर में 1:00 से 2:00 के बीच में व शाम को 7:00 से 8:00 के बीच में कोविड-19 संक्रमित लोगों को व उनके साथ रह रहे तामीरदारों के लिए अलग अलग तरह का भोजन उपलब्ध करा रहे हैं।



साथ ही अमितेश जी ने यह भी बताया कि लखनऊ महानगर के अंतर्गत 41 नगरों में भी सेवा भारती के द्वारा हेल्पलाइन नंबर जारी किए गए हैं। इसके जरिये कोरोना संक्रमित परिवारों में अकेले रह रहे लोगों के लिए भोजन व अन्य किसी प्रकार की सहायता की आवश्यकता होने पर स्वयंसेवक उनका सहयोग कर रहे हैं।


अस्पतालों में भोजन के लिये संदीप जी (8188882387) से संपर्क किया जा सकता है।


टीम स्टेट टुडे


विज्ञापन
विज्ञापन