गनप्वाइंट पर कश्मीर में दो सिख लड़कियों का कराया धर्म परिवर्तन किया जबरन निकाह– जारी है विरोध



कश्मीर में मुसलमानों ने एक बार फिर वही हरकत की है जो 90 के दशक में कश्मीरी पंडितों के साथ किया था। हिंदू औरतों के साथ रेप, धर्मपरिवर्तन और निकाह। फर्क सिर्फ इतना है कि ये कांड इस बार मुसलमानों ने सिख समुदाय के साथ किया है।


जम्मू-कश्मीर में 2 सिख लड़कियों के धर्म परिवर्तन के बाद निकाह को लेकर श्रीनगर से लेकर राजधानी नई दिल्ली तक सिख समुदाय की नाराजगी देखने को मिल रही है। श्रीनगर में हज़ारों की तादाद में सिख समाज के लोगों ने धरना-प्रदर्शन कर अपने गुस्से का इजहार किया। सिख समुदाय का आरोप है कि 2 सिख लड़कियों को गन प्वाइंट पर किडनैप किया गया और जबरन धर्म परिवर्तन कराया गया।


सिख समुदाय के लोगों का ये भी दावा है कि इनमें से एक लड़की की काफी ज्यादा उम्र के शादीशुदा शख्स के साथ निकाह भी करा दिया गया।


पूरे देश में इस घटना के बाद सिख समुदाय के साथ साथ पूरा हिंदू समाज एकजुट हुआ है। पूरे देश में हिंदू और सिख सड़कों पर हैं। केंद्र सरकार से इस मामले में त्वरित एक्शन लेने की मांग जोर पकड़ रही है। साथ जिस तरह लव जेहाद, धर्मांतरण आदि पर कई राज्यों ने कानून बनाए उसी तरह केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मांग हो रही है कि तत्काल जम्मू कश्मीर में भी ऐसा कानून लागू किया जाए।


देश के हिंदू और सिख समाज की आवाज को और बुलंद करते हुए गाजियाबाद के पूरे सिख समाज और गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा रेलवे रोड बजरिया की कमेटी ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से गुजारिश करते हुए पत्र लिखा है।


स्टेट टुडे को यह पत्र गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा के प्रधान सरदार इंदरजीत सिंह टीटू जी ने उपलब्ध करवाया है।

स्टेट टुडे स्वयं भी ऐसे समाज द्रोहियों की मुखालफत करता है जो जबरन धर्मपरिवर्तन कराते हैं और अन्य धर्म की लड़कियों को अपने जाल में फंसा कर या गन प्वाइंट पर निकाह के लिए मजबूर करते हैं। स्टेट टुडे की पूरी टीम सिख समाज और पूरे देश की जनता के साथ खड़ी है।


जो पत्र गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा रेलवे रोड बजरिया की कमेटी की तरफ से गृहमंत्री को भेजा गया है उसे स्टेट टुडे के सभी पाठकों के सामने रख रहे हैं ताकि आप भी समाज में और खासकर जम्मू कश्मीर में मुसलमानों की हरकतों और फितरतों से वाकिफ हो सकें।


खत का मजमून कुछ ऐसा है -


सेवा में श्रीमान

श्री अमित शाह जी

गृहमंत्री

भारत सरकार

नई दिल्ली


विषय _कल श्रीनगर में 2 सिख परिवार की बच्चियों के साथ जबरन 50 साल की उम्र के व्यक्ति का निकाह करना

माननीय गृह मंत्री जी सिख समाज एक ऐसा समाज है जिसने देश के ऊपर समाज के ऊपर हिंदू धर्म के ऊपर यदि किसी ने अत्याचार करने की कोशिश करी है और जब कभी देश पर आपदा आई है और सबसे पहले अग्रिम पंक्ति में खड़े होकर देश की रक्षा भी करी है हिंदू धर्म की भी रक्षा करी है और अभी करोना काल में जो सेवा परमात्मा ने सिख समाज ली है शायद उसका विवरण भी नहीं किया जा सकता।


यह निंदनीय घटना आपके संज्ञान में आ चुकी होगी कल श्रीनगर में 2 सिख परिवार की बच्चियों के साथ जबरदस्ती 50 साल की उम्र के व्यक्तियों ने जबरदस्ती धर्म परिवर्तन करवाया और निकाह करा एक बच्ची का नाम है मनमीत कौर दूसरे का धनमीत कौर।


यह सारा कार्य गन पॉइंट पर किया गया और जब यह कार्य जब कोर्ट में चल रहा था तो किसी को अंदर जाने के लिए इजाजत भी नहीं दी गई बहुत ज्यादा प्रोटेस्ट करने पर रात 10:30 बजे एक बच्ची को वापस किया गया दूसरी बच्ची अभी तक उन्हीं के कब्जे में है।

महोदय पिछले एक माह में 4 बच्चियों के साथ इस तरीके का हादसा हो चुका है जो बहुत ही निंदनीय और शर्मनाक घटना है।

आप से गाजियाबाद का पूरा सिख समाज और गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा रेलवे रोड बजरिया की कमेटी की गुजारिश है इस हादसे पर आपकी तवज्जो बहुत जरूरी है इस तरीके से अल्पसंख्यक समाज की बच्चियों के साथ किया जाएगा तो देश का नाम पर धब्बा लगेगा और जो समाज आगे बढ़कर हर तरीके की कुर्बानी के लिए तैयार रहता है ऐसे समाज की हिम्मत टूटेगी।

गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा रेलवे रोड बजरिया गाजियाबाद के सभी गाजियाबाद के गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी में को साथ लेकर बहुत जल्द एक ज्ञापन जिलाधिकारी महोदय गाजियाबाद के माध्यम से राष्ट्रपति जी के नाम प्रधानमंत्री जी के नाम और गृह मंत्री के नाम देने की तैयारी कर रहा है ।

जिस तरीके से यूपी में और मध्यप्रदेश में धर्म परिवर्तन को लेकर कानून बनाया गया है ऐसा ही सख्त कानून लागू किया जाना चाहिए जहां हमारी संख्या या जिस समाज की संख्या कम है उन सभी प्रदेशों में।


इंदरजीत सिंह टीटू

प्रधान

गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा


एसपी सिंह ओबरॉय

महासचिव

गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा


टीम स्टेट टुडे


विज्ञापन