google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

ऐसा नजारा था जीत के जश्न का, क्रिकेटरों के स्वजन भी शामिल !!


के. विक्रम राव Twitter ID: Kvikram Rao : अपनी विलक्षण बालिंग (15 नवंबर 2023) से मोहम्मद शमी ने कई जटिल प्रश्न, कुछ अनबुझी पहेली को जन्माया है। खासकर भारतीय क्रिकेट टीम के चयनकर्ताओं की सूझ और समझ की बाबत। ऐसा क्यों ? सिर्फ इसलिए कि शमी को इस बार विश्व कप टीम में शामिल करना केवल इत्तेफाक था। वर्ना वे भी रविचंद्रन अश्विन की भांति पेवेलियन और मैदान पर सबको पानी पिलाते रहते। विश्व कप में अब तक सर्वाधिक विकेट (23 विकेट, छः मैच में) लेने वाला शमी महज एक संयोग की देन है, नकि सुविचारित प्रयास के। इस विवेकहीन त्रुटि पर सुनील गावस्कर ने हैरानी व्यक्त की थी। सांसद गौतम गंभीर ने भी। मोहम्मद शमी ने साबित कर दिया कि पहले एकदिवसीय मैचों में उन्हें शामिल न करना चयनकर्ताओं की भारी भूल थी। मगर ऐसा हादसा शमी के साथ दूसरी बार हुआ है। तब फरवरी 2012 में नागालैंड के तेज बालर 35-वर्षीय अबू नेचम खेल में घायल हो गए थे। शमी की लॉटरी लग गई थी। उन्होंने दलीप ट्रॉफी खिताब जीतने में मदद की। मैच में आठ विकेट लिए। उन्हें "उत्कृष्ट, लगातार अच्छी लेंथ से कुछ ही दूरी पर उछाल और ज़िप प्राप्त करने वाला" बालर बताया गया था। तब से शमी बुलंदी पर रहे। वेस्टइंडीज के दौरे पर तो वे “सरप्राइज” आइटम थे। यदि हार्दिक पांड्या चोटिल न हुए होते तो ? शमी घर बैठे रहते।

नरेंद्र मोदी ने कल शमी की श्लाघा की। यह भाजपायी प्रधानमंत्री बोले : “शमी की बालिंग को पीढ़ियां याद रखेंगे। हमारी टीम के लिए फाइनल भी अब पक्का हो गया है।” आगे बढ़कर पाकिस्तान के दिग्गज़ क्रिकेटर और तेज़ गेंदबाज़ वक़ार यूनिस ने ट्वीट किया, "धैर्य ताक़त है, आप 'जुनून और भूख' को नहीं हरा सकते। एक सच्चे फ़ाइटर मोहम्मद शमी बहुत सी तालियों के हक़दार हैं।"

हालांकि पाकिस्तानी पूर्व क्रिकेटर रहे हसीन रजा को कुछ भी यकीन ही नहीं हो रहा है। उन्होंने एक शो में पूछे गए सवाल पर गेंद में ही खोंट निकाल दी। हसन रजा ने कहा : “हमारे जमाने में एक ही बॉल हुआ करती थी। लेकिन यहां लगता है कि बॉल पर एक और लेयर दी गई है। आगे पड़ने वाला बॉल गायब हो जाता है। मुझे लगता है कि बॉल की जांच होना चाहिए।”

इस पर गुस्साये शमी ने वीडियो शेयर करते हुए इंस्टाग्राम स्टोरी पर लिखा : “शर्म करो यार, गेम पर फोकस करो, न की फालतू बकवास पर। कभी तो दूसरों की तारीफ करो। छी यार। ये आईसीसी वर्ल्ड कप है, आपका लोकल टूर्नामेंट नहीं। वसीम भाई ने समझाया था। उन पर ही भरोसा नहीं आपको ?”

मगर बड़ौदावासी इरफान पठान ने अपने इस हमवतनी के बारे में कहा : “शमी फेरारी रोमा (इतालवी मोटर कार) है, जो हर किस्म की ऊबड़ खाबड़ सड़क पर दौड़ सकती है।”

हालांकि शमी की एक भयंकर भूल पर करोड़ों दर्शक आक्रोशित हो गए थे जब केन विलियमसन का कैच उनकी हथेली से छूट गया था। जसप्रीत बुमराह की गेंद थी। तब इस न्यूजीलैंड के बैटर ने 52 रन मात्र बनाए थे। बाद में 17 रन और जोड़े। बड़े महंगे रहे। फिर एक उचकती गेंद शमी ने फेकी। छक्का मारने की लालच में विलियमसन ने बैट उठाया, बाउंड्री पर गिद्ध की भांति खड़े सूर्यकुमार यादव ने कैच लपका। शमी ने अपनी क्षति पूर्ति कर दी।

अपनी उत्कृष्ट बालिंग के लिए शमी जरूर कोरोना रोग को धन्यवाद देते होंगे। वर्ष 2019-20 में अमरोहा (यूपी) के किसान का यह बेटा शमी अपने कृषि फार्म में ही सीमित रहे। वहीं रोज रिवर्स स्विंग गेंद फेंकने का अभ्यास करते रहे। नतीजा भुगतना पड़ा न्यूजीलैंड और बाकी टीमों को।

शमी की बालिंग से उनका दांपत्य जीवन शायद अब पटरी पर आ जाए। अपने शौहर से दूर रह कर बेगम हसीन जहान ने न्यूज़ चैनल न्यूज़ नेशन से कहा : “कुछ भी हो, अच्छा परफॉर्म कर रहा है। अच्छा खेलेगा, टीम में बना रहेगा। अच्छा कमाएगा तो हमारा भविष्य सुरक्षित रहेगा। मैं टीम इंडिया को शुभकामनाएं दूंगी।” मोहम्मद शमी का दक्षिण अफ्रीका दौरे (2018 में) से लौटने के बाद हसीन जहान से विवाद हुआ था। तब हसीन जहान ने अपने फेसबुक पर कई फोटो और वॉट्सअप के स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए शमी पर लड़कियों के साथ अवैध संबंध रखने का आरोप लगाया था। शमी की मुलाकात उनकी इस शरीके-हयात हसीन जहान से 2012 में कोलकता में हुई थी। वह कोलकता नाइट राइडर्स के लिए वे चीयर लीडर्स थी। उनमें प्यार हो गया। मगर जीवन का जहाज तूफान को झेल नही पाया।

इस मैच में दिलचस्प बात यह रही कि इन क्रिकेटरों के कुटुंबीजन भी उपस्थित थे, विजेताओं का अभिनंदन करने के लिए। अपना पचासवां शतक पूरा कर पिच से ही विराट कोहली ने अंगूठा और तर्जनी से ओंठ पकड़कर फ्लाइंग किस फेका। पेवेलियन में बैठी अनुष्का ने उसी तरह चुंबन से जवाब भी दिया। आमिर खान की फिल्म “पीके” में अनुष्का नायिका थीं। रीतिका खुश थी कि पति कप्तान रोहित शर्मा की टीम जीत गई। विकेटकीपर केएल राहुल की पत्नी अथिया शेट्टी तो पति के नाबाद 39 रन पर प्रमुदित थी। टीवी स्टार संजना गणेशन को जरूर रंज हुआ होगा कि तेज बालर पति जसप्रीत बुमराह ज्यादा सफल नहीं हो पाए।

इस पूरे नजारे से याद आया गत वर्ष (अगस्त 2022) का दुबई में टी-20 मैच जब भारत ने पाकिस्तान को हराया था। तब खुशी से सर्वाधिक विभोर हुयी थी मुम्बई की फिल्मी अदाकारा सर्बिया गणराज्य (पूर्व युगोस्लोकिया) की नताशा स्तानकोविच। मगर इस बार हमदर्दी हुई उनसे। कारण ? उनके 28-वर्षीय गुजराती पति हार्दिक हिमांशु पांड्या (बड़ौदावाले) टीम से बाहर हैं। मगर तब दो हजार किलोमीटर दूर अरब सागर पार दुबई में आखिरी गेंदों पर दो चौके तथा एक छक्का लगाकर हार्दिक ने तिरंगा लहराया था। गत वर्ष शारजाह में पाकिस्तान से खाई हार का प्रतिशोध ले लिया था। अब बेसब्री से प्रतीक्षा है फाइनल (रविवार, 19 नवंबर 2023) की जब अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में भारत दांव लगाएगा विश्व कप पर।

K Vikram Rao

Mobile : 9415000909

E-mail: k.vikramrao@gmail.com

0 views0 comments
bottom of page