google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने मनाया 103वां स्थापना दिवस



देश के सबसे विश्वसनीय बैंकों में से एक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने दिनांक 11 नवंबर 2021 को मुंबई स्थित नेशनल सेंटर फॉर परफॉरमेंस आर्ट्स (एनसीपीए), मुंबई में अपना 103वां स्थापना दिवस मनाया.


यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने, स्वतन्त्रता से पूर्व और उसके पश्चात भारत के बैंकिंग परिदृश्य को नया आयाम देने में अत्यंत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है और यह सम्पूर्ण भारत में समृद्धि लाते हुए प्रगति पथ पर अग्रसर है. अपनी स्थापना के बाद से ही यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने बहुविध उद्योगों एवं निर्यात, कृषि, व्यापार, इंफ्रास्ट्रक्चर जैसे क्षेत्रों तथा अन्य विशिष्ट कारोबार संवर्गों को ऋण प्रदान किया है. बैंक का कारोबार सम्पूर्ण भारत में फैला है और इसका 120 मिलियन से अधिक ग्राहक आधार है.


श्री राजकिरण रै जी. प्रबंध निदेशक एवं सीईओ, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने कहा, “103 वें स्थापना दिवस के महत्वपूर्ण अवसर का उत्सव मनाते हुए हमें गर्व हो रहा है. महामारी के कारण आयी चुनौतियों के बावजूद हमने अपनी मूल धारणाओं को बरकरार रखते हुए नए परिवर्तनों को अपनाया है. हमारे लिए ग्राहक सेवा सर्वोपरि है और ग्राहकों को बेहतर सेवा प्रदान करने हेतु हम कल के भारत के लिए बदलाव कर रहे हैं.”



इस अवसर को यादगार बनाने के लिए यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने निम्नलिखित 6 उत्पादों की शुरुआत की है:

यूनियन वर्चुअल कनेक्ट – यूवीकॉन: आपका बैंक अब बस एक “Hi” करने जितना दूर है. यूनियन बैंक के ग्राहक अब 9666606060 पर व्हाट्सएप पर “Hi” टाइप करके पूछताछ एवं सेवाओं, सहायक सेवाओं और खाता सेटिंग्स जैसी सुविधाओं का लाभ ले सकते हैं. अब सही एवं सुरक्षित ढंग से बैंकिंग सेवाओं का आनंद उठाएँ. व्हाट्सएप बैंकिंग से ग्राहक अपने खाते का शेष, मिनी स्टेटमेंट, चेक बुक अनुरोध, शिकायत निवारण, एम-पिन एवं टी-पिन को रीसेट करना आदि जैसी सुविधाओं का लाभ ले सकते हैं.


यूनियन डिजिकनेक्ट शाखाएँ – डिजिकनेक्ट वास्तव में डिजिटल शाखाएँ हैं जहां ग्राहक स्वयं-सेवा पद्धति का उपयोग करके अपनी सुविधा के अनुसार बैंकिंग सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं. सभी डिजिटल परिचालन से कागजी कार्रवाई या कतार में प्रतीक्षा करने की कोई आवश्यकता नहीं है और ग्राहक के अनुरोध को 10 मिनट से भी कम समय-सीमा (टीएटी) में प्रोसेस किया जाएगा. ये आउटलेट नियमित बैंकिंग समय के बाद भी खुले रहते हैं, जिससे ग्राहक किसी भी समय आसानी से बैंकिंग सुविधा का लाभ ले सकते हैं.


बहुभाषिक फिनेकल : आम आदमी को उनकी अपनी भाषा में बहुविध बैंकिंग सेवाएं प्रदान करने की दिशा में, बैंक ने फिनेकल में अपना बहुभाषिक एप्लिकेशन लॉन्च किया है, जो डिस्प्ले, प्रिंट और बैंकिंग दस्तावेजों का एक क्लिक पर अनुवाद प्रदान करता है. यह बहुभाषिक एप्लिकेशन 13 प्रमुख भारतीय भाषाओं – हिन्दी, मराठी, बंगाली, कोंकणी, तमिल, तेलुगू, पंजाबी, मलयालम, कन्नड़, उड़िया, असमिया, गुजराती, उर्दू और अंग्रेजी में उपलब्ध है.


यूनियन ग्रीन डिपॉजिट: यूनियन ग्रीन डिपॉजिट एक सावधि जमा योजना है, जिसमें एकल ग्राहक पर्यावरण हरित परियोजना में निवेश कर सकते हैं. यूमोबाइल एप्लिकेशन के माध्यम से न्यूनतम रु. 50,000 से रु. 200 लाख तक ग्रीन डिपॉजिट खोले जा सकते हैं. ग्रीन डिपॉजिट से प्राप्त राशि का उपयोग पर्यावरण की दृष्टि से हरित पहल जैसे इलेक्ट्रिक वाहन ऋण, रुफ़ टॉप सोलर ऋण और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया द्वारा प्रस्तावित अन्य नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं में निवेश करने के लिए किया जाएगा.



यूनियन रुफ़ टॉप सोलर योजना: यूनियन रुफ़ टॉप सोलर योजना अपने मौजूदा एवं नए आवास ऋण उधारकर्ताओं को संबल प्रदान करता है. यूनियन रुफ़ टॉप सोलर योजना- हरित विश्व की दिशा में अहम योगदान है. बैंक आवासीय क्षेत्र के तहत एकल परिवारों में ग्रिड से जुड़े रुफ़ टॉप सोलर सिस्टम की स्थापना के लिए ग्राहकों को आकर्षक प्रस्ताव, किफ़ायती ब्याज दरों और 10 लाख रुपये तक के मार्जिन के साथ ऋण प्रदान करेगा.


यूनियन ग्रीन माइल: भारत में इलेक्ट्रॉनिक वाहनों को बढ़ावा देने की दृष्टि से यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने यूनियन ग्रीन माइल के जरिए इलेक्ट्रॉनिक वाहनों की खरीद के लिए प्रत्यक्ष प्रोत्साहन एवं इलेक्ट्रिकल वाहनों के लिए आवश्यक चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर के द्वारा महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं. फलस्वरूप पर्यावरण, सामाजिक एवं गवर्नेंस फ्रेमवर्क संवर्ग को कार्रवाई योग्य कारोबार में परिवर्तित किया है एवं निवेशी निर्णयों से पर्यावरण मैत्री बैंक बन गया है. यह ऋण व्यक्तियों द्वारा व्यक्तिगत उपयोग के लिए या कंपनी द्वारा व्यावसायिक उपयोग के लिए लिया जा सकता है. आकर्षक ऑफर के साथ – शून्य प्रसंस्करण शुल्क सहित न्यूनतम ब्याज दर 6.95% प्रति वर्ष है. नए इलेक्ट्रिक 4 पहिया वाहन के लिए कोई अधिकतम ऋण सीमा नहीं है, जबकि 2 पहिया वाहन के लिए यह ऋण सीमा रु. 10 लाख है.


संध्या का समापन प्रसिद्ध पार्श्व गायक अमित त्रिवेदी के अद्भुत संगीतमय प्रदर्शन के साथ हुआ.


टीम स्टेट टुडे



3 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0