google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

जो फर्क अमित शाह ने पैदा किया वो बीजेपी को बाकी दलों से अलग करता है



उत्तर प्रदेश में होने जा रहे विधानसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी का चुनावी शंखनाद ही फर्क पैदा कर गया।


आमतौर पर राजनीतिक दल किसी शहर में अपार जनसमर्थन का दावा करते हुए आम लोगों के बीच रैली या महारैली के साथ चुनावी आगाज़ करते हुए करते हैं।


बीजेपी के अभियान की शुरुआत करने आए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने अपनी ही पार्टी के शक्ति केंद्र प्रभारियों और संयोजकों के बीच चुनावी अभियान का आगाज कर दिया।


31 दिसंबर तक भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष से लेकर बूथ स्तर तक के कार्यकर्ता को पार्टी के सदस्यता अभियान का काम सौंप कर अमित शाह ने जनता से ही जनता के बीच जनता का के लिए बीजेपी के प्रचार का बिगुल फूंक दिया।


लखनऊ के डिफेंस एक्सपो मैदान वृंदावन योजना में अमित शाह ने सदस्यता लेने वाले कुछ युवकों को प्रमाण पत्र देने के साथ ही जनसभा को संबोधित भी किया। इस जनसभा की सबसे दिलचस्प बात यह थी कि पार्टी ने इस कार्यक्रम के लिए सिर्फ अवध क्षेत्र के शक्ति केंद्र प्रभारियों और संयोजकों को ही आमंत्रित किया था। बीजेपी के चाणक्य अमित शाह ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लेकर भी बड़ा संदेश दे दिया है।



अमित शाह ने केन्द्र में 2024 तथा उत्तर प्रदेश में 2022 का रोड मैप तय कर दिया। अमित शाह ने साफ कहा कि केन्द्र में अगर वर्ष 2024 में नरेन्द्र मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाना है तो 2022 में एक बार फिर से योगी आदित्यनाथ जी को मुख्यमंत्री बनाना होगा। मोदी जी को एक बार फिर मौका दे दीजिए। अमित शाह ने कहा कि हमने उत्तर प्रदेश में लोक संकल्प के सारे वादे पूरे किए हैं, लेकिन अभी पांच साल का मौका और चाहिए, ताकि उत्तर प्रदेश को सभी जगह पर देश में नम्बर वन पर लाया जाए। उन्होंने कहा कि प्रदेश सबसे बड़ा काम अगर योगी आदित्यनाथ ने किया है तो वह माफियाओं से मुक्ति दिलाने का काम किया है। लगभग 1,43,000 से ज्यादा पुलिसकर्मियों की भर्ती की गई हैं और उसमें कोई भ्रष्टाचार नहीं हुआ। मेरठ में यूनिवर्सिटी होने के बावजूद वहां की बच्चियां दिल्ली में किराये के घर में रहकर पढ़ाई करती थीं। यूपी में उनकी सलामती नहीं थी। आज कोई भी लड़की स्कूटी पर रात 12 बजे भी यूपी की सड़कों पर चल सकती है, कोई डर नहीं है।



अमित शाह ने कहा कि यूपी में 53 प्रतिशत आबादी युवा है, गरीबों, महिलाओं, दलितों, पिछड़ों को पार्टी के साथ जोडऩे का कार्य भाजपा करेगी। उन्होंने कहा कि आज मैं यहां आया हूं तो आपको जरूर स्मरण कराना चाहूंगा कि यह बाबा विश्वनाथ और भगवान राम, कृष्ण, भगवान बुद्ध, महाराजा सुहेलदेव और कबीर की भूमि है। भाजपा ने यूपी को उसकी पहचान दिलाने का काम किया है। दोस्तों आप दिवाली के दिन 'मेरा परिवार भाजपा परिवार' के तोरण से अपने द्वार को सजाइए और भाजपा को अपना समर्थन दीजिए।


केंद्र सरकार की उज्जवला योजना का जिक्र करते हुए केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा कि हमने 11 करोड़ घरों में गैस पहुचांई है।


2017 के पहले तक उत्तर प्रदेश देश की 7वीं अर्थव्यवस्था थी, आज यूपी देश की दूसरे नंबर की अर्थव्यवस्था बन गया है। अखिलेश बाबू आप यूपी का बजट दस लाख करोड़ रुपये का छोड़कर गए थे। अब अंतरिम बजट 21.31 लाख करोड़ रुपये का रखा है। बेरोजगारी की दर आप 18 प्रतिशत छोड़कर गए थे, आज 4.8 प्रतिशत बेरोजगारी दर है।


केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने यूपी की कानून-व्यवस्था को भी जमकर सराहा। योगी सरकार की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि माफिया और बाहुबली का पूर्ववर्ती सरकारों में खासा दखल था, लेकिन अब ऐसा नहीं है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऐसा इलाज किया है कि अब तो दूरबीन से भी बाहुबली नजर नहीं आते हैं।


अमित शाह ने कोरोना संक्रमण काल के दौरान योगी सरकार के द्वारा किए गए कार्यों की सराहना की। अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए गृहमंत्री ने कहा कि अखिलेश बाबू उस दौरान कहीं नहीं दिखे।

प्रदेश में जब बाढ़ से हालात खराब हुए तब भी योगी आदित्यनाथ जी ने मोर्चा संभाला जबकि अखिलेश जी इस समय भी गायब थे। उन्होंने कहा कि अखिलेश जी यह हिसाब उत्तर प्रदेश की जनता को दीजिए कि पिछले पांच वर्ष में आप विदेश कितने दिन रहे।



पार्टियों के परिवारवाद पर भी अमित शाह ने करारा प्रहार किया। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी के साथ ही बहुजन समाज पार्टी तथा कांग्रेस के लोगों ने शासन स्वयं के लिए, परिवार के लिए और अपनी जाति के लिए किया है, इसके अलावा किसी के लिए शासन नहीं किया है। इन लोगों ने शासन स्वयं के लिए, परिवार के लिए और अपनी जाति के लिए किया है, इसके अलावा किसी के लिए शासन नहीं किया। भाजपा ने उत्तर प्रदेश को अपनी पहचान वापस दिलाने का कार्य किया है। भाजपा ने उत्तर प्रदेश को देश का सबसे प्रमुख राज्य बनने की दिशा में बहुत आगे ले जाने का कार्य किया है। भाजपा ने पहली बार सिद्ध किया है कि जो सरकार बनती है वो परिवार के लिए नहीं होती है, सरकारें सूबे के सबसे गरीब से गरीब व्यक्ति के लिए होती है।


अमित शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में अखिलेश एंड कंपनी हमें ताने देती थी कि मंदिर वहीं बनाएंगे, तारीख नहीं बताएंगे। अखिलेश बाबू तारीख बताना ही नहीं बल्कि मंदिर की नींव भी डाल दी गई है। क्या किसी को कल्पना थी कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर के दर्शन होंगे, लेकिन आपने दो तिहाई बहुमत दिया। पीएम मोदी जी ने राम जन्मभूमि पर मंदिर का शिलान्यास कर दिया। जल्द वहीं पर रामलला का भव्य मंदिर बनेगा। अखिलेश जी को मैं याद दिलाता हूं कि आपकी पार्टी की सरकार में निर्दोष रामभक्तों को गोलियों से भून दिया गया था। आज उसी जगह पर रामलला शान के साथ गगनचुंभी मंदिर में विराजमान होने वाले हैं।


भाजपा उत्तर प्रदेश में अपने सदस्यों की संख्या में रिकार्ड बढ़ोतरी करने की तैयारी में है। संख्याबल के हिसाब से देश की सबसे बड़ी पार्टी ने शुक्रवार को राज्य में 1.5 करोड़ से अधिक नए सदस्य बनाने का लक्ष्य रखा है। अभी भाजपा के उत्तर प्रदेश में दो करोड़ 30 लाख कार्यकर्ता हैं। पार्टी सदस्यता अभियान के लिए हर विधानसभा में जगह-जगह विशेष शिविर लगाएगी।


टीम स्टेट टुडे




22 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0