google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

अगर पकड़े ना जाते तो ये दोनों सैकड़ों को ले डूबते



बहराइच में सैकड़ों लोगों की जान बच गई। नकली शराब फैक्ट्री चलाने वाले 2 शातिर अगर गिरफ्तार ना किए जाते तो बड़ा हादसा हो जाता। थाना हुजूरपुर की पुलिस टीम ने भारी मात्रा में नकली शराब, के साथ 2 शातिरों को गिरफ्तार किया है।


दोनों की गिरफ्तारी हुजूरपुर के ग्राम पैना इलाके से की गई। इनके पास से तीन गैलेन व दो पिपिया मे कुल 130 ली0 अवैध अपमिश्रित देशी शराब, 351 शीशी देशी नकली शराब , QR कोड एक बण्डल , एक बन्डल मे युरिया , एक बन्डल मे नौसादर ,दो बन्डल मे ढक्कन , तीन बन्डल शीशी , खाली शीशी एक बन्डल , कीप, छलनी, सूजा एक बन्डल , वाहन सं0 DL-6C-J-5921 सेन्ट्रो कार , एक अदद मोबाइल टच स्क्रीन रेडमी वाई-3 रेड कलर व 1950/रु0 (500की एक 200 की चार , 100की 5 नोट , 50 की एक नोट) और रियलमी टच स्क्रीन नीला रंग का एंव पैन्ट की जेब से 900/रु0 नकद (100 के सात नोट ,50 के चार नोट ) बरामद किया गया है।

पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि ये लोग नकली शराब बनाकर ठेकों और अन्य जगहों पर ऊंचे दामों पर बेचते हैं। लंबे समय से ये दोनों शातिर नकली शराब का कारोबार करते चले आ रहे थे।

पकड़े गए आरोपियों के खिलाफ थाना हुजूरपुर में धारा 419,420,467,468,471,272,IPC और 60,60(2) आबकारी अधिनियम का अभियोग पंजीकृत कर जेल भेज दिया गया है।

गिरफ्तार अभियुक्त राजा सिंह उर्फ सत्यम सिंह पुत्र राजेन्द्र सिंह निवासी पैना और पाँचू निषाद पुत्र रामफेरे निषाद निवासी ग्राम अन्भापुर का रहने वाला है। इन दोनों अभियुक्तों के पर पहले भी अवैध शराब बेचने के सम्बन्ध में अभियोग पंजीकृत हैं।


टीम स्टेट टुडे


विज्ञापन
विज्ञापन

Commenti


bottom of page