google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

कोरोनाकाल में विवाह कार्यक्रम में हर्ष फायरिंग से 10 साल की बच्ची की गई जान



सुप्रीमकोर्ट के सख़्त आदेश और कोविड प्रोटोलकॉल लागू होने के बावजूद हर्ष फायरिंग का कल्चर खत्म होने का नाम नहीं ले रहा जिसका खामियाजा लोगों को जान देकर चुकाना पड़ रहा है।


ताज़ा मामला बहराइच से सामने आया है। थाना रामगांव क्षेत्र में आई बारात में द्वारपूजा के दौरान हुई हर्ष फायरिंग में 10 साल की बच्ची की गोली लगने से दर्दनाक मौत हो गयी।



घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा है। मामले में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की तफ्तीश में जुटी हुई है।


जानकारी के अनुसार बहराइच के थाना हरदी के सिपहिया पियूली गांव से बारात थाना राम गांव के गम्भीरवा बाजार चौकी क्षेत्र के ग्राम धर्मनपुर में पृथ्वीराज पुत्र छोटे लाल के यहाँ आई थी। देर रात संदिग्ध परिस्थितियों में अपने चचेरे भाई आशीष की बारात में आई काजल पुत्री जीवनलाल उम्र 10 वर्ष निवासिनी ग्राम सिपहिया पियूली थाना हरदी को गोली लग गई। घायला काजल को उसके परिजन इलाज हेतु जनपद मुख्यालय ला रहे थे लेकिन रास्ते में ही उसकी मृत्यु हो गई। जिसके बाद मृतका के परिजन उसके शव को अपने साथ अपने निवास स्थान ग्राम सिपहिया पियूली थाना हरदी लेकर वापस चले आये।


सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। शव को पोस्टमार्टम हेतु जनपद मुख्यालय भेजा गया है। मृतका के पिता की तहरीर के आधार पर थाना रामगांव में सुसंगत धाराओं में अभियोग पंजीकृत कर नियमानुसार अग्रिम विधिक कार्यवाही की जा रही है। वहीं घटनाकाण्ड का वीडियो भी वायरल हो रहा है।


टीम स्टेट टुडे


विज्ञापन
विज्ञापन

{{count, number}} view{{count, number}} comment
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0