google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

खुली चुनौती दी है पत्थरबाजों ने एसपी को – देखना है तीन पीढ़ियां पछताती हैं या नहीं!



उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले में पंचायत चुनाव के दौरान संकल्पा मतदान केंद्र पर बवाल काटने वाले 10 पत्थरबाजों को पुलिस टीम ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।


प्रधानी का चुनाव जीतने के लिये संकल्पा गांव के दो प्रत्याशियों ने अपने समर्थकों के साथ मतदान केंद्र पर जमकर उत्पात मचाया जिससे मौके पर हाहाकार मच गया। लाठी डंडों से लैस दबंगों ने जहां जमकर बवाल काटा, वहीं घण्टों चले पथराव में गांव में कोहराम मच गया।



मौके पर हुए बवाल और पथराव का Live वीडियो वायरल होने के बाद थाना खैरीघाट की पुलिस ने की शख्त कारवाही करते हुए 10 दबंगों को गिरफ्तार किया है।


प्रधान पद के लिये दावेदारी कर रहे दो प्रत्याशी शेरअली और मोहम्मद असलम ने समर्थकों के साथ संकल्पा गांव में बवाल काट कर हाहाकार मचा दिया। सूचना पाकर SP ग्रामीण और CO ने SSB की टीम के साथ मौके का मोर्चा संभाला।



SP ग्रामीण अशोक कुमार और CO कमलेश सिंह ने SSB की टीम लेकर संकल्पा गांव में तगड़ी दबिश देकर चुनाव में व्यवधान डालने वाले 10 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल की सीखचों में डाल दिया।

मुख्य आरोपी शेरअली और मोहम्मद असलम समेत 10 लोगों पर सात क्रिमनल एक्ट सहित तमाम संगीन धाराओं में FIR दर्ज,की गयी है।



दोनों ही प्रत्याशियों का दबंगई के बल पर प्रधानी का चुनाव जीतने का प्लान था जिसे लेकर दहशत का माहौल बनाया गया।


महत्वपूर्ण ये है कि इस पूरे प्रकरण से पहले बहराइच जिले की एसपी सुजाता सिंह ने सभी प्रत्याशियों को पूरी गंभीरता से ताकीद किया था कि किसी भी प्रकार की अराजकता की स्थिति में गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे।



इसमें तो दोराय नहीं है कि पुलिस ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। लेकिन अक्सर ऐसे मामलों में कमजोर पैरवी, सबूतों के अभाव, पुलिसिया हीलाहवाली और राजनीतिक दबाव के चलते आरोपी बाहर आ जाते हैं।


अब देखना है कि इन पत्थरबाजों दहशतगर्दों की तीन पीढ़ियां दंड भुगतती हैं या फिर एसपी ने महज जुमला मारा था।


टीम स्टेट टुडे



74 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0